तुला राशि का दुश्मन कौन है? – तुला राशि के भगवान कौन है?

तुला राशि का दुश्मन कौन है? – तुला राशि के भगवान कौन है? – कुल 12 राशि में तुला राशि भी बहुत ही अहम और महत्वपूर्ण राशि मानी जाती हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा माना जाता है की तुला राशि के जातक बहुत ही चतुर और आयोजक वृति वाले होते हैं. और इनका स्वामी ग्रह शुक को माना जाता हैं.

वैसे तो तुला राशि के जातक में खासियत काफी ज्यादा होती हैं. लेकिन तुला राशि का जातक में कमियां भी काफी होती हैं. आज हम तुला राशि के बारे में आपको कुछ महत्वपूर्ण बाते बताने वाले हैं. इसलिए आज के हमारे इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिये.

tula-rashi-ka-dushman-kaun-h (2)

दोस्तों आज हम आपको बताने वाले है की तुला राशि का दुश्मन कौन है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते है.

तुला राशि का दुश्मन कौन है                             

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि के सबसे बड़े दुश्मन बृहस्पति, मंगल और सूर्य को माना जाता हैं.

तुला राशि के भगवान कौन है?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि के भगवान भगवान को शिव को माना जाता हैं. इसलिए तुला राशि के जातको को हर एक सोमवार के दिन भगवान शिव के मंदिर जाकर उनके दर्शन करने चाहिए. इससे भगवान शिव के आशीर्वाद तुला राशि के जातक पर हमेशा के लिए बना रहता हैं.

तुला राशि की कमजोरी क्या है?

तुला राशि की सबसे बड़ी कमजोरी स्वतंत्रता को माना जाता हैं. इस जाती के लोगो को हमेशा स्वतंत्र रहना पसंद होता हैं. और ऐसे लोगो के जीवन में अगर कोई अड़चन रूप होता हैं. इन्हें पसंद नही आता हैं. तुला राशि के जातक के इस प्रकार के स्वभाव के कारण उनको हमेशा नुकसान भुगतने के दिन आते हैं.

तुला राशि के जातक की दूसरी बड़ी कमजोरी स्त्री को माना जाता हैं. इस राशि के लोग किसी भी स्त्री के चक्कर में पड़ जाते हैं. और इसके बाद फंस जाते हैं. इस वजह से तुला राशि के जातक को जीवन में काफी समस्याओ का भी सामना करना पड़ता हैं.

किसी को पैसा कब देना चाहिए / रात में किसी को पैसा देना चाहिए या नहीं 

तुला राशि का लकी रंग कौनसा है

तुला राशि के जातक के लिए नीला और सफ़ेद रंग बहुत ही लकी माना जाता हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि के जातको को प्रति दिन अपने साथ सफ़ेद या नीले रंग का कपड़ा अपने साथ रखना चाहिए. अगर तुला राशि के जातक नीले या सफेद रंग के कपडे पहनकर कोई भी कार्य करते हैं. तो उस कार्य में जातक को सफलता मिलती हैं.

अगर तुला राशि के जातक सफ़ेद और नीले रंग के कपडे पहनते हैं. तो इससे जातक के भाग्य के दरवाजे खुलने लगते हैं. और जीवन में आने वाली समस्या से छुटकारा मिलता हैं. साथ साथ जीवन में काफी सारी सफलता मिलती हैं.

पराई स्त्री से संबंध बनाने से क्या पाप लगता है / पराई स्त्री क्यों अच्छी लगती है

तुला राशि के लिए कौनसा व्यापार अच्छा है

अगर कोई तुला राशि का जातक हैं. तो ऐसे लोगो को कोल्ड्रिंक, चावल, डेरी प्रोडक्ट, आयुर्वेदिक दवाई, फ्रूट जूस आदि से जुडी वस्तु का व्यापार करना चाहिए. इन सभी वस्तु का व्यापार करने से तुला राशि के जातक को व्यापार में सफलता मिलती हैं.

गायत्री मंत्र के 13 गुप्त उपाय – सवा लाख गायत्री मंत्र का प्रभाव

तुला राशि को कौनसा रत्न धारण करना चाहिए

अगर कोई तुला राशि के जातक हैं. तो उनको ओपल रत्न अपनी उंगली में धारण करना चाहिए. ओपल रत्न तुला राशि के जातको को के लिए बहुत ही शुभ माना जाता हैं.

अगर तुला राशि के जातक जीवन में आ रही बाधा से बचना चाहते हैं. तो ऐसे जातक को ओपल रत्न धारण करके शुक्रवार के दिन “ शु शुक्राय नम:” मंत्र का जाप करना चाहिए. इससे लाभ मिलता हैं.

tula-rashi-ka-dushman-kaun-h (1)

तुला राशि के जातक स्वभाव कैसा होता है

तुला राशि के जातक स्वभाव बहुत ही विनम्र होता हैं. इस राशि के लोग हमेशा ही लोगो का मान-सम्मान करते हैं. साथ साथ तुला राशि के जातक चतुर स्वभाव के होते हैं. तुला राशि के जातक आयोजन करने में काफी अच्छे होते हैं. इसलिए ऐसे लोग अच्छे तरीके से आयोजन करके अपने व्यापार को भी अच्छे से चलाते हैं.

हालाँकि कई बार इन्हें हद से ज्यादा गुस्सा आ जाते हैं. इससे इस राशि के जातक को नुकसान का सामना भी करना पड़ता हैं.

चींटी भगाने का मंत्र तथा विधि – जाने शास्त्रों के तरीके और विधि विस्तार में

तुला राशि की गुप्त बातें

तुला राशि की कुछ गुप्त बातें है जिसके बार में काफी कम लोग जानते हैं. तुला राशि की कुछ गुप्त बाते हमने नीचे बताई हैं.

  • तुला राशि के जातको को जंगल में घुमने जाने का खूब शौक होता हैं.
  • इस राशि के जातक वाहन चलाना भी पसंद करते हैं. इनको वाहन से काफी अधिक लगाव होता हैं.
  • तुला राशि के जातक व्यवहार में अच्छे होते हैं. इनके चेहरे पर हेमशा ही मुस्कान होती हैं.
  • इस राशि के जातक कोई भी कार्य खुद करना पसंद करते हैं. दुसरो से मदद मांगने की आदत नही रखते हैं.
  • इन लोगो को स्वतंत्र रहना पसंद होता हैं. कोई इनके कार्य में बाधा डाले तो यह नाराज हो जाते हैं.
  • वैसे गुस्सा नही करते हैं. लेकिन अगर कोई छेड़ दे तो फिर इनका गुस्सा कभी शांत नही होता.
  • तुला राशि के जातक भावुक स्वभाव के भी होते हैं. इस राशि के जातक मानसिक रूप से मजबूत होते हैं लेकिन शारीरिक रूप से काफी कमजोर होते हैं.

तुला राशि वालो को क्या खुश करता है

कुछ ऐसी वस्तु है जो तुला राशि वाले पसंद करते हैं. जैसे की

  • अच्छा भोजन
  • महंगे उपहार
  • अकेले रहना
  • विवादों में नही आना
  • शांति और धैर्य रखना

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

तुला राशि के जातक को कौनसी देवी की पूजा करनी चाहिए?

तुला राशि के जातक को माता संतोषी, लक्ष्मी और दुर्गा की पूजा करनी चाहिए.

तुला राशि के जातक के लिए कौनसा रत्न अच्छा होता है?

तुला राशि के जातक को हीरा रत्न धारण करना चाहिए. यह शुभ माना जाता हैं.

तुला राशि के जातक के लिए कौनसा दिन अच्छा माना जाता है?

तुला राशि के जातक के लिए सोमवार और रविवार का दिन अच्छा माना जाता हैं. इन दिनों में व्रत आदि करने से लाभ मिलता हैं.

तुला राशि के जातक को कौनसा स्तोत्र पढना चाहिए?

तुला राशि के जातक को लक्ष्मी स्तोत्र का पाठ करना चाहिए.

तुला राशि के जातक को कौनसा धागा बांधना चाहिए?

तुला राशि के जातक को अपने हाथ की कलाई में सफ़ेद रंग का धागा बांधना चाहिए. यह शुभ और सुख देने वाला माना जाता हैं.

क्या तुला राशि के जातक पुखराज रत्न पहन ससकते हैं?

जी हाँ तुला राशि के जातक पुखराज रत्न पहन सकते हैं. लेकिन कुंडली की स्थिति देखने के बाद ही पहनना चाहिए. क्योकि इससे आपको हानि भी हो सकती हैं. इसलिए ज्योतिष की सलाह के बाद ही पुखराज धारण करे.

tula-rashi-ka-dushman-kaun-h (3)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है तुला राशि का दुश्मन कौन है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह तुला राशि का दुश्मन कौन है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम मंत्र – 5 सबसे शक्तिशाली मंत्र

पत्नी पति के बिना कितने दिन रह सकती है / पत्नी मायके क्यों जाती है 

Shailesh Nagar

Leave a Comment