शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण – हमारे देश के महान पण्डित से जाने

शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण – हमारे देश के महान पण्डित से जाने – गर्भ में लड़का होना या लड़की होना यह सब तो भगवान के हाथ में होता हैं. आज के समय में कोई भी दंपति लड़का या लड़की में भेदभाव नही रखते हैं. इसलिए आपको भी इस बारे में यह नही सोचना चाहिए की आपके गर्भ में लड़का है या लडकी.

एक महिला को गर्भवती होने के बाद उन दिनों में एन्जॉय करना चाहिए. क्योकि एक महिला के पुरे जीवन में ऐसे दिन कभी नही आते हैं. इसलिए खूब एंजॉय करे. और इस पल को ख़ुशी के साथ व्यतीत करे.

shastro-ke-anusar-garbh-me-ladka-hone-ke-lakshan (2)

लेकिन आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आपकी जानकारी के लिए शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण बताने वाले हैं. इसलिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण

हमारे पुराने शास्त्रों में गर्भ में लडके होने के कुछ लक्षण बताए गये हैं. जिसके बारे में आज हम आपको जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो आइये जानते है ऐसी ही कुछ लक्षणों के बारे में.

  • शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की जिन प्रेगनेंट महिला के शरीर पर मस्से निकल आते हैं. ऐसी महिला के गर्भ में लड़का है ऐसा ऐसा माना जाता हैं.
  • जिन गर्भवती महिला की गरदन पर काला निशान पड़ जाता हैं. या फिर जिन महिलाओं की कमर काली पड़ जाती हैं. इसके अलावा शरीर पर कही काला निशान पड़ता हैं. और महिला के अंडरआर्म्स अधिक काले पड़ जाते हैं. तो ऐसी महिला के गर्भ में लड़का है. ऐसा माना जाता हैं.
  • ऐसा भी माना जाता है की जिन गर्भवती महिला की नाभि और ब्रेस्ट अधिक काले पड़ जाते हैं. तो यह भी गर्भ में लड़का होने का लक्षण माना जाता हैं.
  • शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की जिन गर्भवती महिलाओ को खाने का अधिक मन होता हैं. जिसे हम फ़ूड क्रेविग भी कहते हैं. ऐसा माना जाता है की इस प्रकार के लक्षण वाली महिलाएं लडके को जन्म देती हैं.
  • हमारे पुराने शास्त्रों के अनुसार जिन गर्भवती महिलाओ को कच्चे चावल खाने का मन होता हैं. ऐसी महिलाओ के गर्भ में लड़का होता हैं.
  • पुराने शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की जिन महिलाओ के गर्भ में लड़का होता हैं. ऐसी महिलाओ के शरीर का दाहिने हिस्से में कुछ बदलाव देखने को मिलता हैं. जैसे की चलते समय दाहिना हिस्से का अधिक हिलना या फिर दाहिना ब्रेस्ट अधिक भारी हो जाना. दाहिने पैर को अधिक उपयोग में लेना. अगर कोई महिला गर्भावस्था के दिनों में अपने दाहिने बोडी पार्ट का अधिक उपयोग करती है. तो यह गर्भ में लड़का होने का लक्षण माना जाता हैं.
  • अगर गर्भ में लड़का दाहिने तरफ अधिक मुबमेंट करता हैं. तो यह भी गर्भ में लड़का होने का संकेत माना जाता हैं.
  • अगर किसी गभर्वती महिला की एड़िया गुलाबी रंग की हो जाती हैं. और हाथ तथा पैर सामान्य से अधिक ठंडे रहते हैं. तो यह भी हमारे शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने का लक्षण माना जाता हैं.
  • अगर किसी गर्भवती महिला में तीसरे महीने में अपने शरीर पर अनचाहे बाल दिखने लगते हैं. या फिर अनचाहे बाल में ग्रोथ दिखने लगता हैं. तो यह भी हमारे शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने का संकेत माना जाता हैं.
  • ऐसा माना जाता है की गर्भ में लड़का होने पर महिला में अनचाहे बाल दिखने लगते हैं. यह बाल महिला के मुंह पर या अपर लिप्स पर भी हो सकते हैं. अगर ऐसे कोई अनचाहे बाल दिखाई देते हैं. तो यह लड़का होने का लक्षण माना जाता हैं.

यह कुछ लक्षण थे. जिसके बारे में हमारे पुराने शास्त्रों में बताया गया हैं. आप प्रेगनेंसी के दौरान इन लक्षणों को देखते हुए आपके गर्भ में लड़का है या लडकी इस बारे में जान सकते हैं.

shastro-ke-anusar-garbh-me-ladka-hone-ke-lakshan (1)

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ बेलपत्र खाने से क्या होता है – 5 आश्चर्यजनक फायदे जाने

गर्भ में लड़का धारण करने के लिए आहार

ऐसा माना जाता है की कुछ ऐसे आहार होते हैं. जिसके सेवन से गर्भ में लड़का धारण हो सकता हैं. कुछ ऐसी वस्तु के सेवन से पोटेशियम और अलक्लाइन गुण मिलते है. जिससे स्वस्थ शुक्राणु पैदा होते हैं. ऐसी वस्तु के सेवन से गर्भ में लड़का होने की संभावना बढती हैं.

गर्भ में लड़का धारण करने के लिए खाने वाली कुछ वस्तु के नाम हमने नीचे बताए हैं.

केले का सेवन करे

ऐसा माना जाता है की केले में पोटेशियम की मात्रा काफी अधिक होती हैं. इसके सेवन से शुक्राणु स्वस्थ और जीवित रहते हैं. जिससे अंडा निषेचित होने की संभावना बनती हैं. जो गर्भ में लड़का धारण करने के लिए उपयोगी साबित हो सकता हैं.

नींबू के वंश के फलो का अधिक मात्रा में सेवन करे

नींबू वंश के फल जैसे की संतरा, अंगूर आदि जैसे फलो का सेवन करने से गर्भ में लड़का धारण करने की संभावना बनती हैं. ऐसा माना जाता है की इन सभी फलो में विटामिन सी और एंटीओक्सिडेंट के गुण पाए जाते हैं. जो लड़का धारण करने में आपको मदद कर सकते हैं.

मशरूम का सेवन करे

मशरूम में पोटेशियम और विटामिन डी पाया जाता हैं. जो पुरुष के शुक्राणु को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करता हैं. मशरूम खाने से लड़का धारण करने में सहायता मिल सकती हैं.

जिंक वाला आहार अधिक मात्रा में खाए

जिंक वाला आहार जैसे की मांस और कद्दू खाने से शुक्राणु स्वस्थ बनते हैं. अगर आप जिंक से भरपूर आहार खाते हैं. तो इससे लड़का धारण करने में सहायता मिल सकती हैं.

गर्भ में बेटी होने के लक्षण

गर्भ में बेटी होने के कुछ लक्षण हमने नीचे बताए हैं.

  • अगर महीला के गर्भ में बेटी हैं. तो महिला कम खाना खाती हैं.
  • अगर महिला के पेट का आकार कम हैं. तो यह भी बेटी होने का लक्षण माना जाता हैं.
  • अगर गर्भवस्था के दौरान महिला के पैर ठंडे रहते हैं. या महिला अधिक ठंडी महसूस कर रही हैं. तो यह भी गर्भ में बेटी होने का लक्षण माना जाता हैं.
  • अगर गर्भावस्था के दौरान महिला को लगातार सिर दर्द रहता हैं. तो यह भी गर्भ में बेटी होने का मुख्य लक्षण माना जाता हैं.
  • अगर गर्भावस्था के दौरान महिला के पेशाब का रंग हल्का पीला होता हैं. तो यह गर्भ में बेटी होने का लक्षण माना जाता हैं. और पेशाब का गहरा रंग बेटा होने का लक्षण माना जाता हैं.

shastro-ke-anusar-garbh-me-ladka-hone-ke-lakshan (3)

क्या श्री कृष्ण अहीर थे | अहीर की परिभाषा | अहीर किस जाति में आते हैं

निष्कर्ष                                                                          

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण बताए है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा शास्त्रों के अनुसार गर्भ में लड़का होने के लक्षण – हमारे देश के महान पण्डित से जाने आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम मंत्र – 5 सबसे शक्तिशाली मंत्र

पत्नी पति के बिना कितने दिन रह सकती है / पत्नी मायके क्यों जाती है 

2 दिन के लिए घूमने की जगह खोजो ऐसे

Shailesh Nagar

Leave a Comment