शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी / शाह जांच आयोग क्या है

शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी / शाह जांच आयोग क्या है – जब भी देश में कोई हलचल होती है. या फिर देश पर कोई आपत्ति आती है. तो ऐसी स्थिति में सरकार कोई ना कोई निर्णय लेती है. और देश में नए नियम लाने पड़ते है. ऐसा हर कोई देश को करना होता है.

Shah-aayog-ki-sthapna-kyo-ki-gai-thi (2)

हमारे देश में भी सालो पहले शाह आयोग की स्थापना की गई थी. जिसके बारे में आज के समय में शायद ही कुछ लोग जानते होगे. आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से शाह आयोग के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले है. तो इस महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है कि शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी. इसके अलावा इस टॉपिक से जुड़ी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले है.

तो आइए हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते है.

शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी

शाह आयोग की स्थापना सन 28 मई 1977 के दिन की गई थी. इस आयोग की स्थापना भारत सरकार के द्वारा की गई थी. भारत के पूर्व न्यायाधीश जे सी शाह शाह आयोग के अध्यक्ष थे.

इस आयोग की स्थापना का मुख्य उद्देश्य आपातकालीन के समय ज्यादतियों की जांच करना था. इसके अलावा इस आयोग का मुख्य उद्देश्य हरियाणा और पंजाब की सीमाओं को विभाजित और स्थापित करना भी था.

Shah-aayog-ki-sthapna-kyo-ki-gai-thi (1)

ईसा मसीह किसके अवतार है – ईसा मसीह कौन थे 

शाहजहां आयोग के अध्यक्ष कौन थे

इस आयोग के अध्यक्ष भारत के भूतपूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति जे सी शाह थे.

मनुष्य में शुक्राणु का निर्माण कैसे होता है – शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं

शाह आयोग की नियुक्ति कब हुई / शाह जांच आयोग क्या है      

शाह आयोग की स्थापना का मुख्य उद्देश्य आपातकालीन के समय ज्यादतियों की जांच करना था. इसके अलावा इस आयोग का मुख्य उद्देश्य हरियाणा और पंजाब की सीमाओं को विभाजित और स्थापित करना भी था.

जब देश में आपातकालीन की परिस्थिति पैदा हुई तब 28 मई 1977 के दिन इस आयोग स्थापना करने का फैसला किया गया. जिसका उद्देश्य आपातकालीन के समय ज्यादतियों की जांच करना था. इस आयोग की स्थापना उस समय की भारतीय जनता पार्टी के द्वारा की गई थी. जब शाह आयोग की स्थापना की गई तब उस समय के भारत के भूतपूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति जे सी शाह इसके अध्यक्ष रहे थे.

वैसे तो इस आयोग का मुख्य उद्देश्य आपातकालीन के समय ज़्यादतियों की जांच करना था. लेकिन जब 16 जुलाई 1979 को इंदिरा गांधी की सरकारी बनी. तब इस आयोग के द्वारा की जा रही जांच को रोक दिया गया था. इसके बाद आयोग के द्वारा जो भी जांच की गई थी. उसकी सभी प्रांतीय को नष्ट कर दिया गया था. लेकिन ऐसा माना जाता है कि इसकी एक प्रांती बच गई थी. जो ऑस्ट्रेलिया की नेशनल लाइब्रेरी में मौजूद है.

तो शाह आयोग के बारे में यह कुछ महत्वपूर्ण जानकारी थी. जो हमने आपको दी है. हम आशा करते है कि आपको शाह आयोग के बारे में कुछ विस्तृत जानकारी मिली होगी.

Shah-aayog-ki-sthapna-kyo-ki-gai-thi (3)

प्याज गर्म होता है या ठंडा – दिन में कितना प्याज खाना चाहिए 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह शाह आयोग की स्थापना क्यों की गई थी / शाह जांच आयोग क्या है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हाथ के नाख़ून पर सफ़ेद निशान का मतलब होता है 

पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि योजना डिटेल्स -सम्पूर्ण जानकारी (दस्तावेज ,लाभ ,आवेदन )

साइलो किसे कहते है हिंदी में बताइए उत्तर दीजिए

Leave a Comment