संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगा – पूरी सच्चाई जाने

संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगापूरी सच्चाई जाने – जो कमजोर और गरीब सवर्ण परिवार होते हैं. ऐसे परिवारों को आज के समय में भी आरक्षण दिया जाता हैं. जब भारत में अंग्रेजो का राज था. जब भारत को आजादी नही मिली थी. उससे पहले ऐसे परीवारो के लिए आरक्षण बनाया गया था. जिसमे गरीब और कमजोर सवर्ण परिवारों को लाभ मिलता था.

लेकिन अंग्रेजो का शासन हट जाने के बाद और भारत को आजादी मिल जाने के पश्चात भी आरक्षण का शिलशिला आज भी चल रहा हैं. आज भी भारत के सवर्ण परिवारों को आरक्षण दिया जाता हैं. और उनको इस आरक्षण का लाभ मिलता हैं.

Sanvidhan-ke-anusar-aarkshan-kab-khatm-hoga (2)

देश के काफी लोगो ने आरक्षण हटाने की मांग कई बार की हैं. लेकिन अभी तक आरक्षण नही हटा हैं. और यह हर दस साल के बाद रिन्यू होता हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगा. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगा

अगर बात की जाए आरक्षण हटने के बारे तो वर्तमान समय को देखकर तो यही लग रहा है की आरक्षण अब कभी नही हटेगा. कोई भी राजनैतिक पार्टी आरक्षण खत्म करने के बारे में नही सोच सकती हैं.

क्योंकि इससे उनकी पार्टी को बहुत बड़ा नुकसान हो सकता हैं. संविधान के अनुसार देखा जाए तो आज के वर्तमान समय को देखते हुए यही नजर आ रहा हैं की आरक्षण अब कभी नही हट सकता हैं.

सुप्रीम कोर्ट के जाने माने जस्टिस जे.बी.पारदीवाला का कहना है की डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने सामाजिक सुधार लाने के लिए और सवर्ण परिवारों को न्याय मिले इसलिए आरक्षण महज दस साल के लिए लागू किया था.

लेकिन आरक्षण पिछले सात दशक से ऐसी ही जारी हैं. और आगे भी ऐसी ही जारी रहने वाला हैं. अगर आरक्षण ऐसे ही अनंतकाल तक जारी रहता हैं. तो ऐसा नही होना चाहिए. इसके पीछे निजी स्वार्थ छिपा हुआ हैं.

काफी लोग चाहते है की देश में से आरक्षण खत्म हो जाए. लेकिन वर्तमान की परिस्थिति देखते हुए तो ऐसा ही लग रहा हैं. की यह आरक्षण आगे भी ऐसे ही बना रहेगा. संविधान के अनुसार भी देखा जाए तो आरक्षण अब ऐसे ही बना रहेगा. और हर दस साल में यह रिन्यू होता रहेगा.

Sanvidhan-ke-anusar-aarkshan-kab-khatm-hoga (1)

माँ की संपत्ति में बेटी का अधिकार – मुस्लिम और हिन्दुओ में कानून जाने 

भारत में आरक्षण के नुकसान / आरक्षण क्यों नहीं होना चाहिए

भारत में आरक्षण होने के काफी सारे नुकसान हैं. जिसके बारे में हमने नीचे जानकारी प्रदान की हैं.

  • भारत में आरक्षण के कारण जातिवाद को बढ़ावा मिलता हैं. जातिवाद को कम करने की जगह आरक्षण के कारण जातिवाद का प्रचार प्रसार होता हैं. और इस वजह से जातिवाद को और अधिक बढ़ावा मिलता हैं.
  • भारत में आरक्षण के कारण अयोग्य उमेदवारो का चयन हो जाता हैं. इस वजह से नामांकित छात्रो को मौका नही मिल पाता हैं. जिससे नामांकित छात्र और कमर्चारी की गुणवता में कमी आती हैं.
  • पिछड़े वर्ग के लोग धनी होने के बावजूद भी उन्हें आरक्षण का लाभ मिल जाता हैं. तो ऐसा न्याय भी देश के लिए अच्छा नही हैं.
  • आरक्षण के कारण सामाजिक अशांति का भय बना रहता हैं. क्योंकि आरक्षण में जातिवाद को बढ़ावा मिलता हैं.
  • आरक्षण के कारण दबंग लोगो को भी फायदा मिल जाता हैं.
  • आरक्षण जातियों के बीच में एक बाधा का काम करता हैं. लोगो को समान नजर से नही देखा जाता हैं. पिछड़ी जाती के धनी परिवारों को भी आरक्षण का लाभ मिल जाता हैं.
  • समाज में जातिवाद मिटाने की जगह जातिवाद का और अधिक प्रचार प्रसार होता हैं.

Sanvidhan-ke-anusar-aarkshan-kab-khatm-hoga (3)

क्या पुलिस को मारने का अधिकार है / पुलिस के अधिकार एवं कर्तव्य की जानकारी

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगा. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह संविधान के अनुसार आरक्षण कब खत्म होगा पूरी सच्चाई जाने आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

किस जुर्म में कौन सी धारा लगती है – सम्पूर्ण जानकारी 

मृत्यु के बाद वसीयत की वैधता / भारत में एक वसीयत को चुनौती देने के लिए सीमा अवधि 

रिटायरमेंट के बाद कितना पैसा मिलता है – Central government servant, Army & Police 

Shailesh Nagar

Leave a Comment