रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है – क्या सभी कुत्तों में रेबीज होता है

रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता हैक्या सभी कुत्तों में रेबीज होता है – जब कोई कुत्ता या फिर मांसाहारी जानवर हमे काट लेता हैं. तब हमें रेबीज नामक बीमारी हो जाती हैं. दरअसल रेबीज एक वायरस हैं. जो जंगली जानवर और कुत्तो की लार में पाया जाता हैं. जब कुत्ते या कोई जंगली जानवर काट लेता हैं. तब यह वायरस घाव के माध्यम से पुरे शरीर में फ़ैल जाता हैं.

शरीर में जाने के बाद यह वायरस सबसे पहले मष्तिष्क वाले हिस्से पर अटेक करता हैं. इसके बाद पुरे नर्वस सिस्टम पर अटेक करता हैं. जब कोई कुत्ता या जंगली जानवर काट लेता हैं. तब रेबीज नामक बीमारी हो जाती हैं. इस रेबीज का अर्थ पागलपन होता हैं.

Rabies-virus-kitne-samay-tak-jinda-rahta-h (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है

कुछ डॉक्टर और एक्सपर्ट का मानना है की रेबीज बहुत ही खतरनाक वायरस हैं. यह वायरस कुत्ते तथा जंगली जानवरों की लार में पाया जाता हैं. एक्सपर्ट का मानना है की जब तक यह वायरस किसी के भी शरीर में मौजूद हैं. तब तक बहुत ही खतरनाक और मजबूत वायरस माना जाता हैं. लेकिन शरीर के बाहर यह वायरस बहुत ही कमजोर माना जाता हैं.

अगर कोई जंगली जानवर या कुत्ता किसी व्यक्ति को काट लेता हैं. तो काटने के बाद घाव के माध्यम से रेबीज वायरस मष्तिष्क तक पहुँच जाता हैं. इसके बाद आपके पुरे नर्वस सिस्टम में स्थापित हो जाता हैं.

जंगली जानवर या कुत्ते के काटने के बाद हमारे शरीर में रेबीज के लक्षण चार से छह सप्ताह के भीतर दिखाई देते हैं. यानी की रेबीज नामकी बीमारी चार से छह महीने के भीतर डेवलप होने लगती हैं.

लेकिन इसका इन्क्यूबेशन पीरियड यानी की इस वायरस के जिंदा रहने की क्षमता दस दिन से आठ महीने तक की मानी जाती हैं. यानी की यह वायरस शरीर में जाने के बाद कम से कम दस दिन तक तथा अधिकतम आठ महीने तक हमारे शरीर में जिंदा रह सकता हैं. इसलिए तो काफी बार रेबीज होने के लक्षण काफी महीने बाद भी दीखते हैं.

बियर का नशा कितनी देर तक रहता है – बियर का नशा उतारने के उपाय

क्या सभी कुत्तों में रेबीज होता है / क्या हर कुत्ते के काटने से रेबीज होता है

जी नही सभी कुत्तो में रेबीज नही होता हैं. रेबीज एक वायरस हैं. जो कुत्तो और जंगली जानवरों की लार में पाया जाता हैं. लेकिन रेबीज सभी कुत्तो और जंगली जानवर में नही पाया जाता हैं. जो कुत्ते और जंगली जानवर रेबीज नामक वायरस से संक्रमित होते हैं. ऐसे कुत्तो में रेबीज पाया जाता हैं.

अगर रेबीज से संक्रमित कुत्ते हम काट लेते हैं. तब यह रेबीज नामक बीमारी हमें हो जाती हैं. हर एक कुत्ते के काटने से रेबीज नही होता हैं. सिर्फ रेबीज से संक्रमित कुत्ते काटने से ही रेबीज होता हैं.

Rabies-virus-kitne-samay-tak-jinda-rahta-h (3)

कुत्ता काटने पर क्या खाना चाहिए

वैसे तो कुत्ता काटने पर आपको हेल्थी खाना ही खाना चाहिए. जैसे की आप फ्रूट और हरी सब्जियां अधिक खानी चाहिए. इसके अलावा आपको ड्राईफ्रूट आदि का सेवन अधिक करना चाहिए. कुत्ता काटने के बाद आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना है की घाव जल्दी भर जाए ऐसी वस्तु का सेवन करे.

कुत्ता काटने के बाद आपको अचार या इमली जैसी खट्टी वस्तु का सेवन नही करना चाहिए. इससे आपका घाव जल्दी नही भरता हैं. और आपको अधिक दर्द का भी सामना करना पड़ सकता हैं.

बार-बार खड़ा क्यों होता है – 5 सबसे प्रमुख कारण जाने

कुत्ते के काटने पर क्या उपाय करे

अगर आपको कुत्ता काट लेता हैं. तो आप प्राथमिक उपचार के तौर पर कुछ उपाय कर सकते हैं. जिससे आप अधिक संक्रमण होने से बच सकते हैं.

  • अगर कुत्ता काट लेता हैं. तो प्रभावित जगह को पानी से अच्छे से धो लेना हैं. जिससे रेबीज आपके शरीर में अधिक ना फ़ैल पाए.
  • कुत्ता काटने के बाद हो सके तो रुमाल की मदद से खून को बहता हुआ रोके.
  • कुत्ता काटने के बाद हो सके तो जल्दी डॉक्टर के पास पहुँच जाए. और रेबीज के इंजेक्शन लगवा ले. ताकि रेबीज शरीर में फैलने से रुक जाए.
  • लेकिन कुत्ता काटने के बाद अगर जल्दी डॉक्टर के पास नही जा पाते हैं. तो बहते हुए खून को रोके. तथा कुछ मरहम आदि लगाकर जाली वाली पट्टी से घाव को बांध ले.

Rabies-virus-kitne-samay-tak-jinda-rahta-h (2)

प्रेगनेंसी में सीधा सोना चाहिए या नहीं – प्रेगनेंसी में क्या नहीं करना चाहिए

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह रेबीज वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

पेशाब का दूधिया सफेद रंग की उपस्थिति के कारण है – सम्पूर्ण जानकारी

हाथ के नाख़ून पर सफ़ेद निशान का मतलब होता है 

मनुष्य में शुक्राणु का निर्माण कैसे होता है – शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं

Shailesh Nagar

Leave a Comment