पेशाब की धार कमजोर होना – कारण और उपाय

पेशाब की धार कमजोर होना कारण और उपाय – पेशाब की धार कमजोर हो जाना यानी की पेशाब की धार कम हो जाना यह एक प्रकार की बीमारी हैं. अगर आपके पेशाब की धार कमजोर हो गई हैं. तो इस बीमारी को SUI स्ट्रेस यूरिनरी इंटोलरेंस के नाम से जाना जाता हैं. यह बीमारी होने पर मरीज के पेशाब की धार कमजोर हो जाती हैं.

इस बीमारी में लोगो को बहुत तेजी से पेशाब आने की समस्या भी उत्पन्न हो जाती हैं. पेशाब की धार कमजोर होना इसके पीछे काफी सारे कारण हो सकते हैं. जिसमें से कुछ मुख्य कारण के बारे में आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से चर्चा करने वाले हैं. साथ साथ इसके उपाय भी आपको बताने वाले हैं.

Peshab-ki-dhar-kamjor-hona-karan-aur-upay (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पेशाब की धार कमजोर होना कारण और उपाय बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पेशाब की धार कमजोर होना कारण और उपाय

पेशाब की धार कमजोर होने के पीछे काफी सारे कारण हो सकते हैं. जिसमें से कुछ मुख्य कारण के बारे में हमने नीचे जानकारी प्रदान की हैं. साथ साथ हमने इसके उपाय भी आपको बताए हैं.

पेशाब की धार कमजोर होने के कारण

पेशाब की धार कमजोर होने के पीछे सबसे बड़ा कारण पेल्विक फ्लोर की कमजोरी को माना जाता हैं. पेल्विक फ्लोर का मुख्य काम मूत्राशय को रोकना और उसे कंट्रोल करने का होता हैं. ऐसे में अगर मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं. तो इस प्रकार की बीमारी उत्पन्न हो जाती हैं. जिसमें पेशाब की धार कमजोर हो जाती हैं.

बढती उम्र के साथ यह मांसपेशियां कमजोर होने पर पेशाब की धार भी कमजोर हो जाती हैं. कुछ अध्ययन में पाया गया है की पुरुष की तुलना में महिला इस रोग का अधिक शिकार बनती हैं.

प्रेगनेंसी, डिलीवरी, मेनोपोज तथा बढती उम्र के कारण महिला में यह मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं. इस कारण उनको SUI स्ट्रेस यूरिनरी इंटोलरेंस जैसी बीमारी हो जाती हैं.

Peshab-ki-dhar-kamjor-hona-karan-aur-upay (2)

मनुष्य में शुक्राणु का निर्माण कैसे होता है – शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं

पेशाब की धार कमजोर होने के उपाय

अगर पेशाब की धार कमजोर हो जाती हैं. तो आपको नीचे दिए गए कुछ उपाय करने चाहिए.

  • पेशाब की धार कमजोर होने पर आपको किसी अच्छे से डॉक्टर को सबसे पहले संपर्क करना चाहिए. और उनसे तुरंत ही इलाज शुरू करवा लेना चाहिए.
  • इसके अलावा आपको रोजाना किगल एक्सरसाइज करनी चाहिए. इससे आपकी पेल्विक मांसपेशियां मजबूत बनती हैं. और और धीरे धीरे आपको इस समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • पेशाब की धार कमजोर होने पर आपको आपके जीवनशैली में बदलाव करना चाहिए. आपको खाने पीने में हेल्थी खाना खाना चाहिए.
  • अगर आप धुम्रपान आदि करते हैं. तो ऐसी आदत को छोड़ना चाहिए.
  • अगर आप पेशाब की धार कमजोर होने की समस्या से पीड़ित हैं. और आपका वजन अधिक हैं. तो वजन नियंत्रण में लाने के उपाय करने चाहिए.
  • कई बार पेल्विक मसल्स अधिक कमजोर हो जाती हैं. ऐसी स्थिति में सर्जरी करने की जरूरत पड़ती हैं. इसलिए इस प्रकार की समस्या में डॉक्टर की राय अवश्य ले.
  • पेल्विक मसल्स को मजबूत करने के लिए लेजर थेरपी का भी सहारा लिया जा सकता हैं. यह थेरपी गाइनोकोलोजिस्ट के द्वारा की जाती हैं. इस थेरपी से आपको इस समस्या से पूरा आराम मिलता हैं.

दिन में कितनी रस्सी कूदने चाहिए – रस्सी कूदने का सही समय 

इस बात का विशेष ध्यान रखे

पेशाब की धार कमजोर होना यह एक सामान्य बीमारी मानी जाती हैं. इस बीमारी से काफी लोग आज के समय में पीड़ित हैं. जैसे की हमने बताया पेल्विक मसल्स कमजोर होने पर इस प्रकार की बीमारी हो जाती हैं. लेकिन आप किगल एक्सरसाइज करके काफी हद तक पेल्विक मसल्स को मजबूत बना सकते हैं.

लेकिन आपकी बीमारी काफी लंबे समय से है और यह बीमारी अधिक हैं. तो आपको चिंता करने की जरूरत नही हैं. क्योंकि इसका इलाज मौजूद हैं. इसलिए आपका इलाज आसानी से हो जाता हैं. इस प्रकार की बीमारी उत्पन्न होने पर आप डॉक्टर की राय लेकर उनसे इलाज शुरू करवा सकते हैं.

इसके अलावा आप अपने जीवनशैली में बदलाव करके व्यायाम आदि करके इस बीमारी से काफी हद तक राहत पा सकते हैं.

Peshab-ki-dhar-kamjor-hona-karan-aur-upay (3)

हाथ के नाख़ून पर सफ़ेद निशान का मतलब होता है 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पेशाब की धार कमजोर होना कारण और उपाय बताए है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह पेशाब की धार कमजोर होना कारण और उपाय आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

पेशाब का दूधिया सफेद रंग की उपस्थिति के कारण है – सम्पूर्ण जानकारी

प्रेगनेंसी में सीधा सोना चाहिए या नहीं – प्रेगनेंसी में क्या नहीं करना चाहिए

Shailesh Nagar

Leave a Comment