पति पत्नी को कब मिलना चाहिए | पति पत्नी का मिलन कैसे होना चाहिए

पति पत्नी को कब मिलना चाहिए | पति पत्नी का मिलन कैसे होना चाहिए – पति-पत्नी दोनों ही इस समाज के लिए आधार स्तंभ माने जाते हैं. यह दुनिया भी इन्ही पर टिकी हुई हैं. एक महिला और पुरुष का लिंग विपरीत होने के कारण दोनों में आकर्षण होना स्वाभाविक हैं. पति और पत्नी दोनों ही एक दुसरे के बीना अधूरे माने जाते हैं.

लेकिन हमारे हिंदू धर्म ग्रंथो के अनुसार कुछ ऐसे दिन निश्चित किए गए है. उस दिन पति-पत्नी का मिलना अर्थात मिलन होना अच्छा माना जाता हैं. पति पत्नी का मिलना अर्थात मिलन करने के अच्छे दिन के बारे में हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले हैं. इसलिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

pati-patni-ko-kab-milna-chahie-milan-kaise-hona (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की पति पत्नी को कब मिलना चाहिए तथा शारीरिक संबंध कब नहीं बनाना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पति पत्नी को कब मिलना चाहिए

हिंदू शास्त्रों के अनुसार कुछ दिन निश्चित गए है. उस दिन पति-पत्नी का मिलना बहुत ही अच्छा माना जाता हैं. सोमवार, बुधवार, गुरूवार तथा शुक्रवार यह चार दिन पति पत्नी का मिलना (मिलन करना शारीरिक संबंध बांधना) शुभ माना जाता हैं. अगर इस दिन पति पत्नी के मिलने से पत्नी गर्भधारण करती है. तो अतिउत्तम माना जाता हैं.

इसके अलावा पति पत्नी को मंगलवार, शनिवार तथा रविवार के दिन नहीं मिलना चाहिए. पति पत्नी के मिलन के यह दिन अशुभ माने जाते हैं. इसके अलावा पति पत्नी को नवरात्र, संक्रांति, व्रत के दिन तथा किसी भी शुभ दिन नहीं मिलना चाहिए..

लड़कियां क्यों कमजोर होती है – 7 सबसे बड़े कारण जाने 

शारीरिक संबंध कब नहीं बनाना चाहिए

पूर्णिमा, अमावस्या, नवरात्र, श्राद्ध पक्ष, श्रावण मास, चतुर्थी, अष्टमी, संक्रांति, संधिकाल आदि दिनों में शारीरक संबंध नहीं बनाना चाहिए. इस दिन शारीरिक संबंध बनाना अशुभ माना जाता हैं.

अगर आप इस दिन संबंध नहीं बनाते है. और नियम का पालन करते है. तो आपके घर में हमेशा के लिए सुख-शांति बनी रहती हैं. इसके अलावा घर का कलह दूर होता हैं. हमेशा धन की प्राप्ति होती रहती हैं. आपसी प्रेम में बढ़ोतरी होती हैं. इसलिए इस दिन शारीरिक संबंध नही बनाना चाहिए.

शारीरिक संबंध बनाने के तुरंत बाद क्या नहीं करना चाहिए

शारीरिक संबंध बनाने के तुरंत बाद निम्नलिखित बातों का ध्यान रखे:

  • शारीरिक संबंध बांधने के बाद तुरंत बाद पुरुष को कभी भी सोना नहीं चाहिए.
  • शारीरिक संबंध बांधने के तुरंत बाद कभी भी पानी नहीं पीना चाहिए. अगर आप चाहे तो शारीरिक संबंध बांधने के 2 घंटे बाद पानी पी सकते हैं. या फिर केला आदि जैसे पौष्टिक फ्रूट खा सकते हैं.
  • शारीरिक संबंध बांधने के 10 से 15 मिनिट बाद महिला को टॉयलेट करना चाहिए. जिस कारण आपका प्राइवेट साफ़ हो जाता हैं. और इंफेक्शन आदि से बचा जा सकता हैं.
  • शारीरिक संबंध बांधने के बाद महिला को कभी प्राइवेट पार्ट साबुन से नहीं धोना चाहिए. आप चाहे तो शुद्ध पानी से प्राइवेट पार्ट धो सकते हैं.
  • शारीरिक संबंध बनाने के बाद अपने पार्टनर को गले लगाकर प्यार भरी बातें करनी चाहिए.

पेपर देने जाने से पहले क्या करना चाहिए – 6 विशेष बातो का ध्यान रखे 

पति पत्नी का मिलन कैसे होना चाहिए

पति पत्नी का मिलन प्यार भरा होना चाहिए. जब भी पति पत्नी मिलन करे सबसे पहले दोनों एक दुसरे से प्यार भरी बातें करे. पति को कभी भी शारीरिक संबंध के लिए उतावला नहीं होना चाहिए.

शारीरिक संबंध बनाने से पहले पति पत्नी को भरपूर रोमांस करना चाहिए. इसके बाद ही मिलन करना चाहिए. पति पत्नी के मिलन के दौरान किसी अन्य लोगो की तथा अपने ऑफिस की बात नहीं करनी चाहिए. पति पत्नी को मिलन के दौरान अपना पूरा समय एक दुसरे को देना चाहिए.

pati-patni-ko-kab-milna-chahie-milan-kaise-hona (3)

पति पत्नी को कब संबंध नहीं बनाना चाहिए

इसके बारे में संपूर्ण जानकारी हमने नीचे प्रदान की हैं.

पूर्णिमा और अमावस्या के दिन

पति पत्नी को पूर्णिमा और अमावस्या के दिन भूलकर भी संबंध नही बनाना चाहिए. इस दिन ऐसा करने से पति पत्नी के जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं. और उनको आने वाले निकट समय में नकारात्मक ऊर्जा का सामना करना पड़ सकता हैं.

किसी भी महीने की चतुर्थी और अष्टमी के दिन

पुराणों और शस्त्रों के अनुसार किसी भी महीने की चतुर्थी और अष्टमी के दिन पति पत्नी को संबंध बनाने से बचना चाहिए. क्योंकि यह दोनों शुभ दिन माने जाते हैं. इस दिन संबंध बनाने से आने वाले समय में आपके जीवन पर विपरीत असर पड़ सकता हैं. तथा आपके करियर में रुकावट पैदा हो सकती हैं.

रविवार के दिन

इसके अलावा पति पत्नी को रविवार के दिन भी संबंध बनाने से बचना चाहिए. इस दिन संबंध बनाने से आपको ढेर सारी समस्याओ का सामना करना पड़ सकता हैं.

पीरियड कम आने के नुकसान / पीरियड में कम ब्लड आए तो क्या करें

श्राद्ध पक्ष के 15 दिन

हिन्दू सनातन धर्म में हर वर्ष 15 दिन के लिए श्राद्ध पक्ष आता हैं. इन दिन हम लोग अपने पूर्वजो को याद करते हैं. ऐसा माना जाता है की इन दिनों में हमें तन, मन वचन, कर्म आदि से शुद्ध रहना चाहिए.

इसलिए श्राद्ध पक्ष में संबंध बनाना वर्जित माना जाता हैं. अगर आप इन दिनों में संबंध बनाते हैं. तो हमारे पितृ नाराज होते हैं. और ऐसे में हमें उनके आशीर्वाद की प्राप्ति नही हो पाती हैं.

नवरात्रि के नौ दिन

नवरात्रि के नौ दिन माता भगवती के दिन माने जाते हैं. इन दिनों में हमें माता भगवती की सच्चे मन से आराधना करनी होती हैं. इसलिए हमे मन और तन से अच्छा रहना होता हैं.

इसलिए शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि के नौ दिन माता की भक्ति करनी चाहिए. और अपने तन मन को शुद्ध रखना चाहिए. नवरात्रि के नौ दिन संबंध बनाने से बचे. अगर आप नवरात्रि के नौ दिन संबंध बनाते हैं. तो इससे माता रुष्ट हो जाती हैं. और फिर हमें उनके आशीर्वाद की प्राप्ति नही होती हैं.

उपवास और व्रत आदि के दिन

जिस दिन आप उपवास आदि करते हैं. या देवी देवताओ के आम से व्रत करते हैं. उन दिनों में भी पति पत्नी को संबंध बनाने से दूर रहना चाहिए. इस दिन पूर्ण रूप से ब्रह्मचर्य का पालन करना जरूरी माना जाता हैं. इसलिए इन दिनों में भी संबंध बनाने से बचे.

pati-patni-ko-kab-milna-chahie-milan-kaise-hona (1)

मोहनी दवा कैसे बनाया जाता है मोहनी टोटका करने की साधना विधि | मोहिनी मंत्र और पौधा 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की पति पत्नी को कब मिलना चाहिए तथा शारीरिक संबंध कब नहीं बनाना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ है. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह पति पत्नी को कब मिलना चाहिए / पति पत्नी का मिलन कैसे होना चाहिए आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

सपने में सड़क पर पैदल चलना और दौड़ना कैसा होता है 

सपने में पिता और भाई को देखना / सपने में जीवित पिता को देखना

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ बेलपत्र खाने से क्या होता है – 5 आश्चर्यजनक फायदे जाने

Shailesh Nagar

Leave a Comment