नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता है – एक्सपर्ट डॉक्टर से जाने

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता हैएक्सपर्ट डॉक्टर से जाने – अगर नवजात शिशु में सबसे नाजुक अंग कोई होता हैं. तो वह शिशु का प्राइवेट पार्ट होता हैं. इसलिए नवजात शिशु में सबसे अधिक किसी को संभालने की जरूरत पड़ती हैं. तो वह है नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट.

आपने देखा होगा की शिशु के जन्म समय नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट यानी की लिंग की ऊपरी त्वचा लिंग के ऊपरी हिस्से से जुडी हुई होती हैं. ऐसे में काफी माता पिता नवजात शिशु के प्राइवेट पार्ट को खोलने की कोशिश करते हैं. लेकिन क्या ऐसा करना सही हैं. और ऐसा करना सही हैं. तो प्राइवेट पार्ट को कैसे खोले. इन सभी बातो पर हम चर्चा करने वाले हैं.

nawjat-shishu-ka-private-part-kasie-khola-jata-h (1)

इसलिए आज का हमारा यह आर्टिकल आप लोगो के लिए बहुत ही उपयोगी होने वाला हैं. इसलिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता है

आपने देखा होगा की शिशु के जन्म के बाद उसके प्राइवेट पार्ट का ऊपरी हिस्सा लिंग के ऊपरी हिस्से जुड़ा हुआ होता हैं. ऐसे में काफी माता पिता शिशु के जन्म के बाद प्राइवेट पार्ट को खोलने की कोशिश करते हैं. लेकिन माता पिता को ऐसा नही करना चाहिए.

किसी भी शिशु का प्राइवेट पार्ट जन्म के बाद अपनी मर्जी से खोलना नही चाहिए. कुछ डॉक्टर का मानना है की जन्म के बाद नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट ऊपर से थोडा चिपका हुआ ही होता हैं.

ऐसे में आपको उसे अपने हिसाब से कभी भी नही खोलना चाहिए. डॉक्टर का कहना है की शिशु के जन्म के बाद दो साल का बच्चा होने पर उसका प्राइवेट पार्ट अपने आप ही खुल जाता हैं.

अगर आप नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट खोलने की कोशिश करते हैं. तो लिंग की ऊपरी चमड़ी या लिंग का ऊपरी हिस्सा फटने का डर रहता हैं. और इससे शिशु का लिंग चोटिल हो सकता हैं.

कई बार नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट किसी जेल या तेल की मदद से खुल भी जाता हैं. लेकिन दुबारा लिंग की चमड़ी नीचे आने के बाद ऊपर की तरफ नही जाती हैं. और ऐसे में शिशु को असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता हैं.

अगर आप आपके शिशु का प्राइवेट पार्ट खोलना चाहते हैं. तो ऐसा भूलकर भी ना करे. इससे शिशु के लिंग को चोट पहुँच सकती हैं. और लिंग पर घाव बन सकता हैं. नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट शिशु की उम्र दो साल होने पर अपने आप खुल जाता हैं.

अगर जन्म के दो साल बाद भी नवजात शिशु अ प्राइवेट पार्ट नही खुलता हैं. तो ऐसे में आपको किसी एक्सपर्ट डॉक्टर की राय लेनी चाहिए. और डॉक्टर से शिशु का ट्रीटमेंट करवाना चाहिए.

ध्यान करते समय क्या सोचना चाहिए – ध्यान केंद्रित कैसे करें

प्राइवेट पार्ट में खुजली वाली बच्ची का घरेलू इलाज

अगर बच्ची के प्राइवेट पार्ट में खुजली हो रही हैं. तो ऐसे में आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं.

  • कई बार बच्ची के प्राइवेट पार्ट में किसी भी इन्फेक्शन की वजह से खुजली की समस्या पैदा हो जाती हैं. ऐसे में आप बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर नारियल तेल लगा सकते हैं. नारियल तेल ठंडक प्रदान करने वाला माना जाता हैं. प्राइवेट पार्ट पर नारियल के तेल लगाने से खुजली की समस्या से छुटकारा मिल सकता हैं.
  • बच्ची के प्राइवेट पार्ट में खुजली होने पर आप एपल साइड विनेगर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. एपल साइड विनेगर को नहाने वाले पानी में डालकर बच्ची को स्नान करवाने से प्राइवेट पर आ रही खुजली से मुक्ति मिलती हैं.
  • बच्ची के प्राइवेट पार्ट में आ रही खुजली की समस्या को दूर करने के लिए आप बेकिंग सोडा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए थोडा सा बेकिंग सोडा नहाने वाले पानी में डालकर उस पानी से बच्ची को स्नान करवाए. इससे प्राइवेट पार्ट पर हो रही खुजली से छुटकारा मिलता हैं.

बच्ची के प्राइवेट पार बहुत ही नाजुक होते हैं. इसलिए बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर यह सभी उपाय करने से पहले किसी हेल्थ एक्सपर्ट की राय जरुर ले.

nawjat-shishu-ka-private-part-kasie-khola-jata-h (1)

नीचे के बाल साफ करने के साबुन का नाम बताए – 3 सबसे शानदार साबुन जाने 

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे क्लीन करे

कुछ इन्फेक्शन आदि से बचने के लिए शरीर के अन्य हिस्सों के साथ साथ नवजात शिशु के प्राइवेट पार्ट को क्लीन करने की भी आवश्यकता पडती हैं. ऐसे में काफी महिलाओ को पता नही होता है की नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे क्लीन किया जाए.

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट क्लीन करने के दौरान कुछ बातो को ध्यान में रखना होता हैं. नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट क्लीन करने का तरीका हमने नीचे बताया हैं.

  • नवजात शिशु के प्राइवेट पार्ट के बाहरी हिस्से को पानी से सबसे पहले धोए. लेकिन बच्चे की फॉरस्किन जबरदस्ती पीछे ले जाकर ना धोये. इससे बच्चे के प्राइवेट पार्ट को हानि पहुँच सकती हैं.
  • नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट हमेशा ही हलके हाथो से और धीरे धीरे धोए.
  • जैसे जैसे बच्चा बड़ा होता हैं. बच्चे के प्राइवेट पार्ट की फॉरस्किन धीरे धीरे पीछे जाना शुरू हो जाती हैं. ऐसे में आप बच्चे की फॉरस्किन धीरे धीरे पीछे ले जाकर क्लीन कर सकते हैं. लेकिन इस दौरान साबुन या किसी भी प्रकार का केमिकल युक्त पदार्थ का उपयोग ना करे.
  • जब बच्चा बड़ा हो जाता हैं. इसके बाद आप उसे फॉरस्किन पीछे ले जाकर धोने का तरीका समझाए. इसमें लिंग का फॉरस्किन पीछे ले जाकर धोना सिखाये. और धोने के बाद स्किन को फिर से आगे की तरफ खिंच ले.
  • अगर बच्चे को पेशाब करने के दौरान जलन या खुजली हो रही हैं. तो ऐसे में किसी एक्सपर्ट डॉक्टर की राय ले. बच्चे के प्राइवेट पार्ट में इन्फेक्शन ना हो इसका विशेष ध्यान रखे.

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट धोने से पहले किन किन बातो को ध्यान में रखना चाहिए

नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट धोने से पहले नीचे बताई गई कुछ बातो को ध्यान में रखे.

  • अधिक गर्म पानी का इस्तेमाल ना करे. पानी हल्का गर्म या गुनगुना ही रखे.
  • नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट धोने के बाद मुलायम रुमाल इस्तेमाल करे.
  • नवजात शिशु की फॉरस्किन जबरदस्ती पीछे ले जाकर ना धोए. बढती उम्र के साथ यह स्किन अपने आप खुलने लगती हैं. इसके बाद प्राइवेट पार्ट को अच्छे से धोया जा सकता हैं.

जब भी आप नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट धोए सिर्फ पानी का इस्तेमाल ही करे.

nawjat-shishu-ka-private-part-kasie-khola-jata-h (2)

52 भैरव मंत्र | 64 जोगनी 52 भैरव मंत्र और नाम | 64 योगिनी शाबर मंत्र और विधि

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता हैएक्सपर्ट डॉक्टर से जाने आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

प्रेगनेंसी में सीधा सोना चाहिए या नहीं – प्रेगनेंसी में क्या नहीं करना चाहिए

पेशाब का दूधिया सफेद रंग की उपस्थिति के कारण है – सम्पूर्ण जानकारी

मनुष्य में शुक्राणु का निर्माण कैसे होता है – शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं

Shailesh Nagar

1 thought on “नवजात शिशु का प्राइवेट पार्ट कैसे खोला जाता है – एक्सपर्ट डॉक्टर से जाने”

Leave a Comment