मिर्च में फल फूल की दवा | मिर्च का पौधा बढ़ाने की दवा – मिर्च में लगने वाले रोग

मिर्च में फल फूल की दवा | मिर्च का पौधा बढ़ाने की दवामिर्च में लगने वाले रोग – भारत में मिर्च प्रमुख मसाला फसल मानी जाती हैं. आज के समय में पुरे भारत में देखा जाए तो 7,92,000 हेक्टर में मिर्च की खेती की जाती हैं. आज के समय में किसानों की रूचि भी मिर्च की फसल उगाने में बढ़ी हैं. मिर्च हमारे भोजन का अहम हिस्सा हैं.

इसलिए भारतीय घरों में सब्जी, अचार, मसाले आदि बनाने में मिर्च का इस्तेमाल किया जाता हैं. लेकिन मिर्च की खेती में फुल झड़ने के कारण उत्पादन कम होता हैं. ऐसे में किसान भाई चिंता में पड जाते हैं. लेकिन किसान भाइयों को चिंता करने की जरूरत नहीं हैं. हम आपको इस आर्टिकल में आपकी दुविधा का रास्ता बताएगे.

mirch-me-phal-phool-ki-dwa-paudha-badhane-ki-dwa-lgne-wale-rog (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मिर्च में फल फूल की दवा तथा मिर्च में वायरस की दवा बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. इसलिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

मिर्च में फल फूल की दवा / मिर्च का पौधा बढ़ाने की दवा

अगर मिर्च में फल फुल झड़ने की समस्या अधिक हो गई हैं. तो सबसे पहले तो अपनी मिट्टी का परिक्षण करवाना चाहिए. परिक्षण के आधार पर ही खाद और दवाई का इस्तेमाल किया जाता हैं. अगर मिर्च में फल फुल अधिक झड रहे हैं. तो आप प्लानोफिक्स नामक दवाई का इस्तेमाल कर सकते हैं.

अगर मिर्च पर फल फुल आते हुए दिखे तो 4.5 लिटर पानी में 1 मिली जितना प्लानोफिक्स मिलाकर छिडकाव कर दे. इसका दूसरा छिडकाव 20 दिन के बाद फिर से करना चाहिए. इस दवाई के इस्तेमाल से मिर्च पर फल फुल आना बंद हो जाएगे. तथा मिर्च का पौधा भी अच्छे तरीके से बढेगा.

चौड़ी पत्ती वाले खरपतवार नाशक दवा कौनसी है – किसान सहायता केंद्र 

मिर्च में वायरस की दवा                           

मिर्च को वायरस से बचाने के लिए आप Lysorus Virus & Bacteria नामक दवाई का इस्तेमाल कर सकते हैं. मिर्च को वायरस से बचाने के लिए यह दवाई बहुत ही फायदेमंद साबित होती हैं. अगर आप इस दवाई को खरीदना चाहे तो ऑनलाइन माध्यम से आपको आसानी से मिल जाएगी.

मिर्च में लगने वाले रोग

मिर्च में थ्रिप्स, माहू, आद्र गलन, मिर्च का उकटा रोग, मिर्च का फल गलन आदि रोग मिर्च को लगते हैं. इसके अलावा सफ़ेद लट, मकड़ी, सफ़ेद मक्खी आदि किट मिर्च को लग जाते हैं. जो मिर्च की फसल को बिगाड़ देते हैं.

मिर्च की खेती में कौन सा खाद डालें

मिर्च के अच्छे के उत्पादन के लिए गोबर की सड़ी खाद तथा वर्मीकम्पोस्ट खाद डालनी चाहिए.

क्या चीज खाने से बच्चा गिर जाता है? – बच्चा गिराने के बाद क्या होता है

मिर्च की खेती से लाभ

मिर्च की खेती से होने वाला लाभ हमने नीचे बताया हैं.

  • मिर्च खेती के लिए एक एकड़ नर्सरी से 285 एकड़ पौधे खेती के लिए तैयार हो जाते हैं.
  • मिर्च के पौधे से प्रति एकड़ 5000 से 6000 तक की आमदनी हो जाती हैं.
  • हर साल मिर्ची के पौधों कुल 26 से 50 लाख की आमदनी हो जाती हैं.
  • हर साल प्रति एकड़ से मिर्च के पौधों से कमाई 10 से 15 लाख हो जाती हैं.
  • मिर्च का पौधा पांच महीने में बढ़के तैयार हो जाता हैं.
  • मिर्च की खेती में कम आमदनी और श्रम कम लगता हैं. तथा इसकी आमदनी अच्छी होती हैं. अर्थात खर्चे के सामने आमदनी अधिक हैं.
  • इसलिए मिर्च की खेती करने में काफी लाभ किसान भाइयों को होते हैं.

हरी मिर्च की खेती का समय

हरी मिर्च की खेती का समय पांच महिना होता हैं. हरी मिर्च का खेती का समय नवंबर से मार्च महीने का हैं. इन पांच महीनों में हरी मिर्च बनकर तैयार हो जाती हैं.

mirch-me-phal-phool-ki-dwa-paudha-badhane-ki-dwa-lgne-wale-rog (3)

मिर्च के पौधे के फुल झड़ने के कारण

जो भी हमारे किसान भाई होते हैं. वह मिर्च की खेती तो कर लेते हैं. क्योंकि मिर्च की डिमांड हमेशा के लिए बनी रहती हैं. इसलिए मिर्च की खेती करने पर मुनाफा भी अच्छा ख़ासा मिल जाता हैं.

लेकिन मिर्च की खेती करने के बाद एक समस्या हमेशा के लिए बनी रहती हैं. और वह है मिर्च के पौधे से फुल का झड़ना. मिर्च की खेती में यह समस्या होने के बाद मिर्च की किस्म अच्छी नही रहती हैं. ऐसा माना जाता है की इससे मिर्च की गुणवत्ता और स्वाद में फर्क पड़ जाता हैं.

इसके लिए हमे मिर्च के पौधे को झड़ने से रोकना होता हैं. लेकिन मिर्च के पौधों को झड़ने से रोकना कोई आसान काम नही होता हैं. आप कितनी भी कोशिश कर लो मिर्च के पौधे से फुल झड़ते ही हैं.

लेकिन अगर आप मिर्च के पौधे पर से फुल झड़ने के कारण जानते हैं. तो शायद आप मिर्च के पौधे से फुल झड़ने को रोक सकते हैं. मिर्च के पौधे से फुल झड़ने के कुछ मुख्य कारण हमने नीचे बताए हैं.

  • तापमान में अचानक से उतार चढाव होना. यानी की कभी तापमान अचानक से ठंडा या अचानक से गर्म होना.
  • जहां मिर्च रोपी गई हैं. उस मिट्टी में नमी होना.
  • अगर मिर्च के पौधे में दुरी बनी हुई हैं. तो इस कारण भी मिर्च के पौधे के फुल झड़ सकते हैं.
  • अगर मिट्टी में नाइट्रोजन की कमी हैं. तो इस कारण भी मिर्च के पौधे के फुल झड़ सकते हैं.
  • अगर मिर्च के पौधों पर फुल की मात्रा अधिक हैं. तो इस कारण भी मिर्च के पौधे के फुल झड़ सकते हैं.

भ्रूण में सबसे पहले कौन सा अंग बनता है – भ्रूण को पोषण कैसे मिलता है 

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

मिर्च के पौधों के लिए सबसे अच्छा कीटनाशक कौन सा है?

मिर्च के पौधों को कीटनाशक से बचाने के लिए ढेर सारे कीटनाशक मौजूद हैं. लेकिन सबसे अच्छा और बेतरीन कीटनाशक नीम का तेल माना जाता हैं.

मिर्ची की अच्छी ग्रोथ के लिए कौनसा खाद डालना चाहिए?

अगर आप मिर्ची की अच्छी ग्रोथ करना चाहते हैं. तो ऐसे में आपको डीएपी खाद को डालना चाहिए. अधिकतर किसान भाई मिर्ची की अच्छी ग्रोथ के लिए इस खाद का ही उपयोग करते हैं.

मिर्च के लिए कीटनाशक स्प्रे कौनसा हैं?

अगर आपको मिर्च के लिए कीटनाशक स्प्रे की जरूरत हैं. तो आप मिर्च और लहसुन को पीसकर पानी में डालकर स्प्रे बना सकते हैं. अब इस स्प्रे को मिर्च पर डालने से कीटनाशक के रूप में काम करती हैं. और इससे आपकी मिर्च की खेती खराब होने से भी बच जाती हैं.

mirch-me-phal-phool-ki-dwa-paudha-badhane-ki-dwa-lgne-wale-rog (1)

बाबा रामदेव जी का पुराना इतिहास , जाति, परिवार, पुत्र, घोड़े का नाम 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मिर्च में फल फूल की दवा तथा मिर्च में वायरस की दवा बताई हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह मिर्च में फल फूल की दवा / मिर्च का पौधा बढ़ाने की दवा आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

ध्यान करते समय क्या सोचना चाहिए – ध्यान केंद्रित कैसे करें

इस महीने का शुभ दिन कौन सा है – सबसे अच्छा दिन कौन सा होता है

नीचे के बाल साफ करने के साबुन का नाम बताए – 3 सबसे शानदार साबुन जाने 

Shailesh Nagar

Leave a Comment