मौत कैसे आती है – क्या मौत पहले से ही निश्चित होती है

मौत कैसे आती हैक्या मौत पहले से ही निश्चित होती है – इस दुनिया में जिसने भी जन्म लिया है. उसकी मौत तय हैं. अर्थात इस दुनिया में कोई भी जीव, प्राणी, मनुष्य अमर नहीं हैं. अगर जन्म लिया है. तो मौत होना भी जरूरी हैं. किसी जीवात्मा अर्थात प्राणी, मनुष्य के जीवन का अंत मौत के नाम से जाना जाता हैं.

Maut-kaise-aati-h-kya-pahle-se-hi-nishchit-h (2)

हमारे धर्म ग्रंथ में मौत को परम पवित्र मंगलकारी देवी माना गया हैं. लेकिन कुछ लोगो का सवाल है की मौत कैसे आती हैं. आज हम इस टॉपिक पर इस आर्टिकल में चर्चा करेगे तथा आपके सवाल का जवाब देगे. इसलिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की मौत कैसे आती है तथा क्या मौत पहले से ही निश्चित होती है. इसके आलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

मौत कैसे आती है

वैसे तो मौत होने के 101 प्रकार हैं. लेकिन मुख्य रूप से 8 तरीके की मौत होती हैं. मौत के कुछ प्रकार हमने नीचे बताए हैं. उस अनुसार किसी भी जीव तथा मनुष्य की मौत आती हैं.

  • अगर कोई व्यक्ति वृद्ध हो गया हैं. तो वृद्धावस्था के कारण मौत आती हैं. वृद्धावस्था में व्यक्ति का शरीर धीरे-धीरे साथ देना छोड़ देता हैं. और इस कारण उसकी मौत हो जाती हैं.
  • अगर किसी व्यक्ति को कोई भयंकर रोग हो गया हैं. जो जानलेवा हैं. उस रोग के कारण शरीर कमजोर हो रहा हैं. तथा रोगी उस रोग को सहन नहीं कर पा रहा हैं. तब व्यक्ति की मौत जानलेवा रोग के कारण हो जाती हैं.
  • काफी लोगो की मौत दुर्घटना में होती हैं. अगर किसी व्यक्ति का भयंकर एक्सीडेंट हुआ हैं. तो उस कारण शरीर उसका साथ देना छोड़ देता हैं. और व्यक्ति की मौत हो जाती हैं.
  • कई बार कुपोषण के कारण भी व्यक्ति की मौत हो जाती हैं. अगर व्यक्ति को सही खाना नहीं मिल रहा हैं खाना पौष्टिक नहीं हैं. या फिर किसी व्यक्ति को खाना मिल ही नहीं रहा हैं. वह भूखा मर रहा हैं. तो इन सभी कारणों से भी मौत आती हैं.
  • कई बार व्यक्ति की मौत शोक तथा चिंता के कारण आती हैं. अगर किसी व्यक्ति को किसी बात का सदमा लगा है. जिसे वह भूल नहीं पा रहा है या फिर उस बात को लेकर चिंता में डूबा हुआ हैं. तो अधिक शोक तथा चिंता के कारण भी व्यक्ति की मौत हो जाती हैं.
  • इसके अलावा लालच, मोह, आकस्मिक आघात के कारण भी व्यक्ति की मौत आती हैं.

Maut-kaise-aati-h-kya-pahle-se-hi-nishchit-h (3)

क्या मौत पहले से ही निश्चित होती है

मौत पहले से निश्चित है या नहीं इसके बारे में तो कोई भी नहीं जानता हैं. यह सभी प्रभु के हाथ में हैं. लेकिन मौत होनी है मौत अटल है. इसके बारे में सभी मनुष्य जानते हैं. मौत का समय क्या हैं. इसके बारे में कोई नहीं जानता हैं.

मरने से पहले यमराज क्या संकेत देते हैं

मरने से पहले यमराज के द्वारा नीचे बताए गए संकेत दिए जाते हैं.

  • अगर आपके बाल सफ़ेद हो रहे हैं. तो मान लीजिए की आप की मौत निकट हैं.
  • अगर आपके दांत गिरना शुरू हो गए है. तो मान लीजिए की आप की मौत होने वाली हैं.
  • अगर आपकी सोचने की शक्ति कमजोर पड़ गई हैं. तो मान लीजिए आपके मरने का समय निकट आ रहा हैं.
  • अगर आपका शरीर आशक्त हो गया हैं. आपका शरीर अब साथ नहीं दे रहा हैं. आप कमर में से झुक रहे हैं. तो मान लीजिए की आपका मरने का समय आ गया हैं.
  • आपको यह सभी संकेत दिखने लगे तो हो सके उतना प्रभु भजन कीजिए. और भगवान का नाम लेते रहिए. ताकि मरने के बाद आपको भगवान के चरणों में स्थान मिल सके. और जन्म मरण के चक्र से आपको छुटकारा मिल सके.

Maut-kaise-aati-h-kya-pahle-se-hi-nishchit-h (1)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की मौत कैसे आती है तथा क्या मौत पहले से ही निश्चित होती है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह मौत कैसे आती है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

Shailesh Nagar

Leave a Comment