कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिए – कामाख्या देवी मंदिर पूजा विधि

कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिएकामाख्या देवी मंदिर पूजा विधि – कामाख्या मंदिर देश के गुवाहाटी शहर में स्थिति हैं. कामाख्या मंदिर देश के प्रसिद्ध मंदिर में से एक माना जाता हैं. यहाँ पर लाखो की संख्या में भक्त गण दर्शन करने के लिए आते हैं. यह मंदिर माँ कामाख्या का मंदिर माना जाता हैं.

ऐसा माना जाता है की जो भक्त माँ कामाख्या के श्रद्धा पूर्वक दर्शन करता हैं. उनके मन की सभी मनोकामना पूर्ण होती हैं. इस मंदिर की सबसे बड़ी बात यह है की यहाँ पर तांत्रिक पूजा होती हैं. इस मंदिर के आसपास अधिकतर तांत्रिक देखने को मिल जाते हैं.

Kamakhya-mandir-kab-jana-chahie (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिए

अगर आप कामाख्या मंदिर जाना चाहते हैं. तो साल भर में कभी भी कामाख्या मंदिर जा सकते हैं. यह मंदिर पुरे साल खुला रहता हैं. लेकिन अम्बुबाची मेले के दौरान तीन दिन के लिए कामाख्या मंदिर बंद रहता हैं. ऐसा माना जाता है की इन दिनों में माँ कामाख्या मासिक धर्म से गुजरती है. इसलिए मंदिर को बंद रखा जाता हैं.

इसके बाद चौथे दिन मंदिर को खोला जाता है. और देवी की पूजा अर्चना की जाती हैं. इसलिए अगर आप चाहे तो अम्बुबाची मेले के समय भी कामाख्या मंदिर  जा सकते है.

इसके अलावा अगर आप अक्टूम्बर से मार्च महीने के बीच कामाख्या मंदिर जाते हैं. तो आपके लिए अच्छा रहेगा. क्योंकि इन दिनों गुवाहाटी में मौसम ठंडा रहता हैं. अधिक गर्मी भी नही होती हैं. तो ऐसे में आप सुहाने मौसम में कामाख्या मंदिर जा सकते हैं. कामाख्या मंदिर जाने के लिए यह समय सबसे अच्छा माना जाता हैं.

Kamakhya-mandir-kab-jana-chahie (2)

किसी को पैसा कब देना चाहिए / रात में किसी को पैसा देना चाहिए या नहीं 

कामाख्या देवी मंदिर पूजा विधि

कामाख्या देवी की पूजा करने से हमें काफी सारे लाभ मिलते हैं. आप कामाख्या देवी मंदिर जाकर या फिर अपने घर पर भी कामाख्या देवी की पूजा कर सकते हैं.

अगर आप कामाख्या देवी मंदिर जाकर पूजा करते हैं. तो आपको सच्चे मन से धुप दीप आदि जलाकर कामाख्या देवी की पूजा करनी चाहिए. पूजा के बाद आपको कामाख्या देवी को पुष्प आदि अर्पित करने चाहिए.

लेकिन अगर आप घर पर कामाख्या देवी की पूजा करते हैं. तो नीचे दी गई विधि पूर्वक पूजा कर सकते हैं.

  • कामाख्या देवी की पूजा करने के लिए सबसे पहले आपको कामाख्या देवी की एक प्रतिमा लेनी हैं.
  • इसके बाद प्रतिमा को अच्छे साफ़ सुथरी चौकी पर स्थापित करना हैं.
  • इतना हो जाने के बाद धुप दीप और पुष्प आदि से कामाख्या देवी की पूजा करनी हैं.
  • पूजा संपन्न हो जाने के पश्चात आप अपनी मर्जी अनुसार कन्याओं को अपने घर आमंत्रित करके उनका पूजन करना हैं.
  • कन्याओ का पूजन हो जाने के बाद कन्याओ को भोजन करवाए. इसके बाद उन्हें कपड़े आदि का दान करे.
  • अगर आप चाहे तो कामाख्या देवी की पूजा करने के बाद भंडारे का भी आयोजन कर सकते हैं.
  • कामाख्या देवी की पूजा अर्चना करने के बाद आप माता का आशीर्वाद पाने के लिए दुर्गा सप्तशी का पाठ करे.

गायत्री मंत्र के 13 गुप्त उपाय – सवा लाख गायत्री मंत्र का प्रभाव

कामाख्या देवी पूजा के लाभ

अगर आप कामाख्या देवी की पूजा करते है. तो आपको नीचे दिए गये लाभ की प्राप्ति होती हैं.

  • कामाख्या देवी की सच्चे मन से पूजा अर्चना करने पर हमे धन से जुडी समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • अगर आपके जीवन में विवाह से जुडी बाधा उत्पन्न हो रही हैं. विवाह में अडचने आ रही हैं. तो ऐसे में आपको कामाख्या देवी की पूजा करनी चाहिए. इससे आपके विवाह में आ रही बाधा दूर होती हैं.
  • कामाख्या देवी की पूजा करने से लंबे समय से चल रहे क़ानूनी विवादों का अंत होता हैं. और हमे जीत की प्राप्ति होती हैं.
  • कामाख्या देवी की पूजा अर्चना करने से हमारा स्वास्थ्य अच्छा बना रहता हैं.
  • कामाख्या देवी की पूजा करने से हमारे व्यापार और नौकरी से जुडी परेशानी भी दूर होती हैं. इससे हमारे व्यापार में वृद्धि होती हैं.

Kamakhya-mandir-kab-jana-chahie (3)

चींटी भगाने का मंत्र तथा विधि – जाने शास्त्रों के तरीके और विधि विस्तार में

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह कामाख्या मंदिर कब जाना चाहिए कामाख्या देवी मंदिर पूजा विधि आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम मंत्र – 5 सबसे शक्तिशाली मंत्र

पत्नी पति के बिना कितने दिन रह सकती है / पत्नी मायके क्यों जाती है 

2 दिन के लिए घूमने की जगह खोजो ऐसे

Shailesh Nagar

Leave a Comment