काला धागा बांधने का तरीका, मंत्र तथा फायदे

काला धागा बांधने का तरीका, मंत्र तथा फायदे – आपने काफी लोगो के हाथ, पैर, बाजु आदि पर काला धागा बांधा हुआ देखा होगा. काला धागा बांधना यह पुराने समय से चला आ रहा हैं. पुराने समय में भी लोग काले धागे का उपयोग करते थे. ऐसा माना जाता है की काला धागा बांधने से बुरी शक्तियाँ हमारे से दूर रहती हैं. और हमे किसी की बुरी नजर नही लगती हैं.

इसके अलावा भी काला धागा बांधने के काफी सारे फायदे हैं. कुछ लोग तो तांत्रिक क्रियाओं में भी काले धागे का उपयोग करते हैं. लेकिन आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से काला धागा बांधने का सही तरीका बताएगे. तो यह महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए हमारे साथ अंत तक बनी रहिए.

kala-dhaga-bandhne-ka-tarika-mantr-fayde (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से काला धागा बांधने का तरीका बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

काला धागा बांधने का तरीका / शनिवार के दिन काला धागा कैसे बांधे

काला धागा बांधने का सही तरीका हमने नीचे बताया हैं.

  • काला धागा बांधने से पहले उसको अभिमंत्रित जरुर करे. इसके बाद ही काला धागा धारण करे.
  • अभिमंत्रित होने के बाद काले धागे पर नौ गांठ बांध ले.
  • काले धागे को हमेशा ही ब्रह्म मुहूर्त या अच्छे मुहूर्त में ही पहनना चाहिए.
  • इसके लिए आप किस योग्य ज्योतिष या ब्राह्मण की सलाह ले सकते हैं.
  • आप जिस हाथ में काला धागा बांध रहे हैं. उस हाथ में कोई अन्य रंग का धागा ना बांधे. जैसे की पीले या लाल रंग का धागा नही बांधना चाहिए.
  • काले धागे को शनिदेवता का प्रतीक माना जाता हैं. इसलिए हो सके तो शनिवार के दिन काला धागा बांधे.
  • काला धागा बांधते समय ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय धीमहि तन्नो रुद्रः प्रचोदयात् इस मंत्र का जाप करे. अगर हो सके तो काला धागा बांधने के बाद भी इस मंत्र का जाप रोजाना अपने इच्छा अनुसार करे. इससे आपको अधिक लाभ होगा.
  • आप शनिवार के दिन भी बिलकुल इसी प्रकार से काला धागा बांध सकते हैं.

तो कुछ इस आसान तरीके से आप काला धागा अपनी कलाई, बाजु, हाथ, पैर आदि जगह बांध सकते हैं.

हाथ के नाख़ून पर सफ़ेद निशान का मतलब होता है

काला धागा बांधने का मंत्र

ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय धीमहि तन्नो रुद्रः प्रचोदयात्

यह काला धागा बांधने का सबसे अच्छा और प्रभावशाली मंत्र माना जाता हैं. काला धागा बांधते समय इस मंत्र का जाप करने से काले धागे से होने वाले फायदे बढ़ जाते हैं. इससे आपको अधिक लाभ होता हैं. काला धागा बांधते समय इस मंत्र का कम से कम दो से पांच बार जाप जरुर करे.

2 दिन के लिए घूमने की जगह खोजो ऐसे

काला धागा बांधने के फायदे

काला धागा बांधने के कुछ फायदे हमने नीचे बताए हैं.

  • काला धागा बांधने से बुरी शक्तियाँ हमारे आसपास नहीं भटकती हैं.
  • काला धागा बांधने से हमारे आसपास हमेशा ही पॉजिटिव ऊर्जा बनी रहती हैं. नेगेटिव ऊर्जा हमारे से दूर रहती हैं.
  • काला धागा बांधने से हम किसी की बुरी नजर से बच सकते हैं.
  • अगर आपके बिजनेस और दूकान को किसी की बार-बार नजर लग जाती हैं. तो काले धागे में एक साबुत नींबू और सात मिर्च पिरोकर मुख्य द्वार पर लगाने से आपके धंधे रोजगार पर किसी की नजर नही लगती हैं.
  • काला धागा शनिदेवता का प्रतीक भी माना जाता हैं. अगर आपके जीवन में शनिदेवता का बुरा प्रभाव बना हुआ हैं. तो आपको काला धागा बांधना चाहिए. इससे आप शनिदेवता के बुरे प्रकोप से बच सकते हैं.
  • राहू केतु के बुरे प्रभाव से बचने के लिए भी काला धागा हमारे लिए फायदेमंद माना जाता हैं.
  • अगर आप अपने दाहिने पैर में काला धागा बांधते हैं. तो आपको कभी भी धन की कमी नहीं होती हैं.
  • अंगुठे पर काला धागा बांधने से आपके पेट से जुडी समस्या खत्म हो जाती हैं.

kala-dhaga-bandhne-ka-tarika-mantr-fayde (3)

Puri duniya main kitne log hain | पूरी दुनिया में कितने लोग रहते हैं

काला धागा बांधने का नियम

अगर आप काला धागा बांधना चाहते हैं. तो काला धागा बांधने से पहले उसके नियम जानने जरूरी हैं. अगर आप काला धागा बांधने के बाद उसका पूरा फायदा लेना चाहते हैं. तो उसके नियम जान ले.

काला धागा बांधने के कुछ नियम हमने नीचे बताए हैं.

  • काला धागा महिला या पुरुष कोई भी बाँध सकता हैं. इसलिए आप महिला है या पुरुष नि:संकोच होकर काला धागा बाँध सकते हैं.
  • काला धागा आप हाथ या पैर दोनों में अपनी इच्छा अनुसार बाँध सकते हैं.
  • अगर आप एक महिला है और काला धागा पैर में बाँध रही हैं. तो महिलाओ को काला धागा बाए पैर में बाँधना चाहिए.
  • अगर आप पुरुष हैं. और पैर में काला धागा बांधना चाहते हैं. तो पुरुष को काला धागा हमेशा ही दाए पैर में बांधना चाहिए.
  • अगर आप काला धागा हाथ में बांधना चाहते हैं. तो महिला हो या पुरुष काला धागा हमेशा ही दाए हाथ में ही बांधना चाहिए.
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा माना जाता है की दाहिने हाथ में काला धागा बांधने से जातक की कुंडली में मौजूद शनि, राहू और केतु का दोष दूर होता हैं.

काला धागा किस दिन पहनना चाहिए

अगर आप काला धागा पहनना चाहते हैं. तो आपको शनिवार या मंलवार के दिन काला धागा पहनना चाहिए. शास्त्रों में इस दिन काला धागा पहनना शुभ माना जाता हैं.

अगर आप इस दिन काला धागा पहनते हैं. तो आपके जीवन में आ रही बाधा दूर होती हैं. इससे आपको खुशियों की प्राप्ति होती हैं. अगर आप मंगलवार के दिन काला धागा बांधते हैं. तो इससे आपके जीवन में चल रही सभी प्रकार की आर्थिक समस्या खत्म हो जाती हैं.

इसके अलावा अगर आप शनिवार के दिन काला धागा बांधते हैं. तो इससे आपके जीवन में चल रहा शनि दोष दूर होता हैं. अगर आपके जीवन में शनि देवता का बुरा प्रभाव बना हुआ हैं. तो ऐसे में आपको शनिवार के दिन शनि देवता की पूजा अर्चना करने के बाद काला धागा बांधना चाहिए.

पैर में काला धागा बांधना से क्या होता है

शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की पैर में काला धागा बांधने से राहू और केतु के बुरे प्रभाव से मुक्ति मिलती हैं. अगर आपके जीवन में राहू और केतु के कारण दोष उत्पन्न हो रहे हैं. तो आपको पैर में काला धागा बांधना चाहिए. इससे आपको अवश्य ही राहू केतु के दोष से मुक्ति मिलती हैं. और आपको सुख की प्राप्ति होती हैं.

kala-dhaga-bandhne-ka-tarika-mantr-fayde (1)

शाम को शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए या नहीं / शिवलिंग को घर में रखना चाहिए या नहीं 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से काला धागा बांधने का तरीका बताया है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह काला धागा बांधने का तरीका, मंत्र तथा फायदे आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि योजना डिटेल्स -सम्पूर्ण जानकारी (दस्तावेज ,लाभ ,आवेदन )

साइलो किसे कहते है हिंदी में बताइए उत्तर दीजिए

कंपनी में नौकरी के लिए आवेदन पत्र कैसे लिखे | नौकरी के लिए हिंदी में आवेदन पत्र कैसे लिखे

Shailesh Nagar

1 thought on “काला धागा बांधने का तरीका, मंत्र तथा फायदे”

Leave a Comment