गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ / गूलर का पेड़ काटने से क्या होता है

गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ / गूलर का पेड़ काटने से क्या होता है – हिन्दू सनातन धर्म में गुलर का पेड़ शुभ और पवित्र माना जाता हैं. ऐसा माना जाता है की गुलर के पेड़ का संबंध शुक्र ग्रह से होता हैं. जिन लोगो की कुंडली में शुक्र का बुरा साया होता हैं. या फिर किसी की कुंडली में शुक्र ग्रह बुरे प्रभाव से मौजूद हैं. तो ऐसे लोगो को गुलर का पेड़ उगाना चाहिए. और उसमे जल अर्पित करना चाहिए.

ज्योतिष शास्त्र में गुलर के पेड़ के बारे में काफी कुछ बताया गया हैं. जिसके बारे में आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से चर्चा करने वाले हैं. तो इस महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

Gular-ka-ped-shubh-h-ya-ashubh (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ

वैसे तो गुलर का पेड़ काफी शुभ होता हैं. वास्तु शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुलर के पेड़ को बहुत ही शुभ पेड़ माना जाता हैं.

अगर आप गुलर के पेड़ को उगाते हैं. और उसकी सेवा पूजा करते हैं. तो आपकी कुंडली में मौजूद शुक्र ग्रह शांत होता है. इसके अलावा गुलर के पेड़ की सेवा पूजा करने से आपको देवी देवता के आशीर्वाद की भी प्राप्ति होती हैं.

लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आपको गुलर का पेड़ घर में नही लगाना चाहिए. घर में गुलर का पेड़ होना अशुभ माना जाता हैं. ऐसा माना जाता है की घर में गुलर का पेड़ होने से घर में दरिद्रता आती हैं. और घर के सदस्यों के काम सलफता पूर्वक खत्म नही होते हैं.

इसके अलावा ऐसा भी माना जाता है की घर की उत्तर दिशा में अगर गुलर का पेड़ हैं. तो यह बहुत ही अशुभ होता हैं. इससे हमे नेत्र रोग हो सकता हैं. इसलिए अगर घर के आसपास या घर की उत्तर दिशा में गुलर का पेड़ हैं. तो आपको तुरंत ही हटा देना चाहिए. यह आपके लिए नुकसानदायी हो सकता हैं.

Gular-ka-ped-shubh-h-ya-ashubh (1)

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ बेलपत्र खाने से क्या होता है – 5 आश्चर्यजनक फायदे जाने

गूलर का पेड़ काटने से क्या होता है

गुलर को देवी देवता का पेड़ माना जाता हैं. हिन्दू सनातन धर्म में गुलर को पवित्र पेड़ माना जाता हैं. इसके अलावा इस नव ग्रह की लकड़ी जा पेड़ भी माना जाता हैं. गुलर का पेड़ मंगलकारी माना जाता हैं. इसलिए बीना वजह कभी भी गुलर के पेड़ नही काटना चाहिए.

ऐसा माना जाता है की गुलर का पेड़ पवित्र और वंदनीय पेड़ होता हैं. इसलिए अगर आप बीना वजह गुलर के पेड़ को काट रहे हैं. तो यह अशुभ माना जाता हैं. अगर आपको मजबूरन गुलर का पेड़ काटना पड़ रहा हैं. तो आपको गुलर के पेड़ को झड़ सहित निकाल लेना चाहिए. और झड़ सहित किसी और जगह रोप देना चाहिए.

गूलर का फूल घर में रखने से क्या होता है?

ज्योतिस शास्त्र के अनुसार गुलर का फुल भगवान कुबेर की धन संपदा माना जाता हैं. गुलर का फुल हमारे लिए पवित्र माना जाता हैं.

अगर आप गुलर का फल घर में रखते हैं. तो यह आपके लिए शुभ माना जाता हैं. घर में गुलर का फुल रखने से भगवान कुबेर के आशीर्वाद से हमे धन की प्राप्ति होती हैं. और आर्थिक तंगी से मुक्ति मिलती हैं.

किसी को पैसा कब देना चाहिए / रात में किसी को पैसा देना चाहिए या नहीं 

गूलर का फूल देखने से क्या होता है

वास्तु शास्त्र के हिसाब से गुलर का फुल देखना हमारे लिए शुभ माना जाता हैं. ऐसा माना जाता है की जो लोग गुलर के फुल को देख लेते हैं. ऐसे लोगो के भाग्य बदल जाते हैं. और उनको सौभाग्त की प्राप्ति होती हैं. गुलर का फुल आपके भाग्य के दरवाजे खोलने वाला माना जाता हैं.

गूलर का फूल कितने बजे खुलता है / गूलर का फूल क्यों नहीं दिखाई देता है

ऐसा माना जाता है की गुलर का फुल रात के समय खिलता है. और सुबह होते है नष्ट हो जाता हैं. इसलिए गुलर का फुल हमे कभी भी नही दीखता हैं.

Gular-ka-ped-shubh-h-ya-ashubh (3)

गायत्री मंत्र के 13 गुप्त उपाय – सवा लाख गायत्री मंत्र का प्रभाव

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा गूलर का पेड़ शुभ है या अशुभ / गूलर का पेड़ काटने से क्या होता है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम मंत्र – 5 सबसे शक्तिशाली मंत्र

पत्नी पति के बिना कितने दिन रह सकती है / पत्नी मायके क्यों जाती है 

2 दिन के लिए घूमने की जगह खोजो ऐसे

 

Shailesh Nagar

Leave a Comment