चांदी धारण करने की विधि क्या है – चांदी का कड़ा कितने ग्राम का पहनना चाहिए

चांदी धारण करने की विधि क्या है – चांदी का कड़ा कितने ग्राम का पहनना चाहिए – हिन्दू सनातन धर्म में चांदी को एक पवित्र धातु माना जाता हैं. हमारे काफी सारे शुभ कार्यो और प्रसंगो में चांदी का उपयोग किया जाता हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भी चांदी बहुत ही अच्छी मानी जाती हैं.

ऐसा माना जाता है की चांदी चन्द्रमा और शुक्र ग्रह से संबंधित हैं. इसलिए इन ग्रहों को मजबूत बनाने में भी चांदी का प्रयोग किया जाता हैं. चांदी हम लोग अलग अलग तरीके से धारण करते हैं. इसके धारण करने की विधि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले हैं.

Chandi-dharanh-karne-ki-vidhi (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से चांदी धारण करने की विधि बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

चांदी धारण करने की विधि

चांदी धारण करने की संपूर्ण विधि हमने नीचे बताई हैं.

  • अगर आप चांदी धारण कर रहे हैं. तो सबसे पहले चांदी धारण करने के लिए शुक्रवार के दिन का चयन करे. चांदी धारण करने के लिए शुक्रवार का दिन बहुत ही शुभ माना जाता हैं.
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भी शुक्रवार के दिन चांदी धारण करना अच्छा माना जाता हैं.
  • अब चांदी धारण करने से पहले आपको चांदी को अच्छे से गंगाजल या कच्चे दूध से धो लेना हैं. इससे चांदी पर मौजूद अशुद्धि दूर होती हैं.
  • अगर आप चांदी का लोकेट पहन रहे हैं. तो महिला या पुरुष दोनों ही अपने गले में चांदी का लोकेट पहन सकते हैं.
  • अगर आप चांदी की अंगूठी धारण कर रहे हैं. तो महिलाओ को अपने बाए हाथ में और पुरुषो को अपने दाए हाथ में चांदी की अंगूठी धारण करनी चाहिए.
  • चांदी की अंगूठी धारण करते समय एक बात का विशेष ध्यान रखे की यह आपको सिर्फ अपने कनिष्ठान ऊँगली में ही धारण करनी हैं.
  • काफी लोग चांदी का कड़ा पहनना भी पसंद करते हैं. तो चांदी का कड़ा भी महिलाओ को अपने बाए हाथ में और पुरुष को अपने दाए हाथ में धारण करना चाहिए.
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार व्यक्ति का अंगूठा शुक्र ग्रह का कारम माना जाता हैं. और चांदी को चन्द्र ग्रह का कारक माना जाता हैं. ऐसे में हमारी कुंडली के शुक्र ग्रह को मजबूत करने के लिए आप आपके अंगूठे में चांदी धारण कर सकते हैं.

किसी को पैसा कब देना चाहिए / रात में किसी को पैसा देना चाहिए या नहीं 

चांदी का कड़ा कितने ग्राम का पहनना चाहिए

काफी लीग ज्योतिषी लाभ पाने के लिए चांदी का कड़ा पहनना पसंद करते हैं. अगर आप भी चांदी का कड़ा पहन रहे हैं तो आपको 7,21 या 41 ग्राम का चांदी का कड़ा पहनना चाहिए. इसके अलावा आप अपनी सुविधा अनुसार 108 ग्राम का चांदी का कड़ा भी पहन सकते हैं.

Chandi-dharanh-karne-ki-vidhi (2)

चांदी का कड़ा पहनने से क्या होता है

चांदी का कड़ा पहनने से हमारे जीवन में हमें काफी सारे लाभ मिलते हैं. जिसके बारे में हमने नीचे जानकारी प्रदान की हैं.

  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चांदी को चन्द्र और शुक्र का कारक माना जाता हैं. अगर आपकी कुंडली में चन्द्र और शुक्र कमजोर हैं. या फिर शुक्र या चन्द्र ग्रह से आपके जीवन में कोई भी समस्या आ रही हैं. तो आपको चांदी का कड़ा पहनना चाहिए. इससे चन्द्र और शुक्र दोष दूर होते हैं.
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चांदी का कड़ा पहनने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं. इससे आपको माता लक्ष्मी के आशीर्वाद की प्राप्ति होती हैं.
  • अगर आपको धन से जुडी कोई समस्या हैं. तो आपको चांदी का कड़ा पहनना चाहिए. इससे आपको धन से जुडी समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • चांदी को ठंडी और शीतलता प्रदान करने वाली धातु माना जाता हैं. इसलिए चांदी का कड़ा पहनने से आपके मन को शांति मिलती हैं. आपको शीतलता प्रदान होती हैं.
  • चांदी को सकारात्मकता प्रदान करने वाली धातु भी माना जाता हैं. अगर आप चांदी का कड़ा पहनते हैं. तो इससे आपको सकारात्मकता की प्राप्ति होती हैं. आपकी सोच सकारात्मक होती हैं.

Chandi-dharanh-karne-ki-vidhi (3)

गायत्री मंत्र के 13 गुप्त उपाय – सवा लाख गायत्री मंत्र का प्रभाव

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से चांदी धारण करने की विधि बताई है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह चांदी धारण करने की विधि क्या है – चांदी का कड़ा कितने ग्राम का पहनना चाहिए आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम मंत्र – 5 सबसे शक्तिशाली मंत्र

पत्नी पति के बिना कितने दिन रह सकती है / पत्नी मायके क्यों जाती है 

2 दिन के लिए घूमने की जगह खोजो ऐसे

 

Shailesh Nagar

Leave a Comment