ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये | ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है

ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये | ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है – ब्रह्म कमल एक प्रकार का फुल है. जिसे पवित्र माना जाता हैं. ऐसा माना जाता है की ब्रह्म कमल में से निकलने वाला रस अमृत के समान माना जाता हैं. इसलिए ब्रह्म कमल काफी सारे औषधीय गुणों से भरा हुआ होता हैं.

Brahm-kamal-ka-paudha-kaise-lgaye-kis-dewata-ko-chadhya-jata-h (3)

ब्रह्म कमल पौधे का इस्तेमाल काफी सारी बीमारियों को ठीक करने में भी किया जाता हैं. इसलिए आयुर्वेद में भी इस पौधे का काफी महत्व हैं. ब्रह्म कमल के पौधे को घर में लगाना भी शुभ माना जाता हैं. इसलिए काफी लोग ब्रह्म कमल के पौधे को घर में लगाते हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये तथा ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये

ब्रह्म कमल का पौधा लगाने की संपूर्ण प्रोसेस हमने नीचे बताई हैं.

  • ब्रह्म कमल का पौधा लगाने के लिए सबसे पहले आपको इसकी पत्ती को लेना होगा.
  • इसके पश्चात आपको मिट्टी को तैयार करना होगा. मिट्टी को तैयार करने के लिए 50 प्रतिशत सामान्य मिट्टी तथा 50 प्रतिशत पुराने गोबर के खाद वाली मिट्टी लेनी होगी. और दोनों मिट्टी को बड़े से गमले में अच्छे तरीके से मिश्रित करना होगा.
  • अब ब्रह्म कमल की पत्ती को मिट्टी में चार से पांच इंच गहराई में लगाए.
  • यह सभी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद गमले में भरपूर मात्रा में पानी डालना होगा.
  • इसके बाद गमले को सूर्य की रोशनी में रख दे.
  • गमला ऐसी जगह रखे जहां सूर्य की सीधी धुप न लगे. क्योंकि ब्रह्म कमल के लिए थोड़ी धुप और थोड़ी ठंडक रहना जरूरी हैं.
  • अब एक महीने के भीतर ब्रह्म कमल की जड़े निकलना शुरू हो जाएगी.
  • एक बार जड़े निकलना शुरू हो जाए. इसके बाद इतना ही पानी दे जिससे सिर्फ नमी बनी रहे. क्योंकि इसके पौधे के लिए अधिक पानी की जरूरत नहीं होती हैं.

ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है

ब्रह्म कमल का अर्थ ब्रह्मा का कमल माना जाता हैं. इसलिए ब्रह्म कमल ब्रह्म देवता का अतिप्रिय माना जाता हैं. इसलिए आप ब्रह्म देवता को ब्रह्म कमल का फुल चढ़ा सकते हैं.

ब्रह्म कमल को तोड़ने के नियम

ब्रह्म कमल को सिर्फ नन्दाष्टमी के समय में तोडा जाता हैं. इसके अलावा आप इस फुल को तोड़ नहीं सकते हैं. यह फुल बहुत ही पवित्र माना जाता हैं. इसलिए ब्रह्म कमल के फुल को कभी भी तोडना नहीं चाहिए.

Brahm-kamal-ka-paudha-kaise-lgaye-kis-dewata-ko-chadhya-jata-h (1)

ब्रह्म कमल कब खिलता है

ब्रह्म कमल अगस्त महीने में खिलने लगता हैं. तथा सितंबर से अक्टूम्बर तक इसके ऊपर फुल खिलना शुरू हो जाते हैं. ब्रह्म कमल का जीवन पांच से छ: महीने का होता हैं. इसके पश्चात फिर से यह अगस्त में खिलना शुरू करते हैं.

ब्रह्म कमल का रहस्य

ब्रह्म कमल को ब्रह्मा का कमल माना जाता हैं. उनके नाम से ही इस पौधे का नाम ब्रह्म कमल पड़ा हैं. ऐसा माना जाता है की जो व्यक्ति ब्रह्म कमल के पौधे को खिलता हुआ देख लेता हैं. वह बहुत ही भाग्यशाली व्यक्ति माना जाता हैं. जल्दी इसके पौधे खिलते हुए देखने को नहीं मिलते हैं.

ऐसा भी माना जाता है की जो व्यक्ति ब्रह्म कमल के पौधे को खिलता हुआ देख लेता हैं. उसको संपति तथा सुख की प्राप्ति होती हैं. एक और बात यह है की इस फुल को नंदा का पसंदीदा फुल माना जाता हैं. इसलिए इस फुल को नन्दाष्टमी के दिन तोडा जाता हैं.

ब्रह्म कमल का पौधा price

ब्रह्म कमल का पौधा आपको किसी भी नर्सरी वाले के यहां से आसानी से 200 से 300 रूपये के करीब मिल जाएगा.

Brahm-kamal-ka-paudha-kaise-lgaye-kis-dewata-ko-chadhya-jata-h (2)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये तथा ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह ब्रह्म कमल का पौधा कैसे लगाये / ब्रह्म कमल किस देवता को चढ़ाया जाता है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

Shailesh Nagar

Leave a Comment