बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए / बजरंग बाण कब पढ़ना चाहिए

बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए / बजरंग बाण कब पढ़ना चाहिए – हिन्दू सनातन धर्म में हनुमानजी ही एक ऐसा देवता है. जो धरती पर हमारे बीच आज भी मौजूद हैं. इसलिए तो हनुमानजी महाराज को जाग्रत देवता के नाम भी जाना जाता हैं. ऐसा माना जाता है की हनुमानजी की पूजा पाठ अर्चना करने से हमारे जीवन की तमाम प्रकार की समस्या का नाश होता हैं.

Bajarang-banh-kitni-bar-padhna-chahie (3)

हम जीवन में सुख की प्राप्ति के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं. लेकिन हमारे कुछ पुराने शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की हनुमान चालीसा के पाठ के साथ साथ बजरंग बाण का पाठ भी करना चाहिए. यह हनुमान जी का ही पाठ माना जाता हैं. बजरंग बाण का पाठ करने से हमे हनुमानजी के विशेष आशीर्वाद की प्राप्ति होती हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. इसलिए आज के हमारे इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिए.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए

बजरंग बाण का पाठ आप अपनी इच्छा अनुसार कितनी भी बार पढ़ सकते हैं. जैसे की आप बजरंग बाण का पाठ 7, 11 या 21 बार पढ़ सकते हैं. इसके अलावा आपके पास अधिक समय हैं. तो आप बजरंग बाण का पाठ 51 या 101 बार या इससे भी अधिक बार पढ़ सकते हैं.

बजरंग बाण का पाठ पढने के लिए कोई भी पाबंदी नही हैं. आप अपनी इच्छा अनुसार और समय अनुसार बजरंग बाण का पाठ कर सकते हैं.

उधारी वसूलने के उपाय मंत्र कौनसा है / रुपया नहीं दे तो कौन सा टोटका करें

बजरंग बाण कब पढ़ना चाहिए / बजरंग बाण का पाठ कितने बजे करना चाहिए

बजरंग बाण का पाठ आप किसी भी दिन कर सकते हैं. अगर आप हनुमान जी के विशेष आशीर्वाद की प्राप्ति चाहते हैं. तो आपको शनिवार या मंगलवार के दिन बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए. इसके अलावा आप रोजाना नियमित रूप से भी बजरंग बाण का पाठ कर सकते है.

अगर आप बजरंग बाण का पाठ करते हैं. तो आपको सुबह के समय स्नान आदि करने के बाद करना चाहिए. दुपहर के समय आपको बजरंग बाण का पाठ कभी भी नही करना चाहिए. इसके अलावा आप शाम के समय सूर्यास्त के आसपास बजरंग बाण का पाठ कर सकती हैं. रात के समय भी बजरंग बाण का पाठ नही करना चाहिए.

अगर आप बजरंग बाण का पाठ करना चाहते हैं. तो सुबह या शाम के समय बजरंग बाण का पाठ कर सकते हैं. बजरंग बाण का पाठ करने के लिए यह समय सबसे अच्छा और शुभ माना जाता हैं.

Bajarang-banh-kitni-bar-padhna-chahie (2)

क्या बजरंग बाण का पाठ रोज कर सकते हैं

जी हाँ आप बजरंग बाण का पाठ रोजाना कर सकते हैं.

गुरुवार के दिन पैसा मिलना शुभ या अशुभ / गुरुवार के दिन क्या खरीदना चाहिए

बजरंग बाण के चमत्कार

बजरंग बाण से होने वाले कुछ चमत्कार और फायदों के बारे में हमने नीचे जानकारी प्रदान की हैं.

बजरंग बाण के पाठ से होता है फायदा

बजरंग बाण का पाठ बहुत ही चमत्कारिक पाठ माना जाता हैं. अगर आप प्रति दिन नियमति रूप से बजरंग बाण का पाठ करते हैं. तो आपके जीवन की सभी प्रकार की पीड़ा समस्या दूर होती हैं.

बजरंग बाण के पाठ से मिलती है शत्रु से मुक्ति

बजरंग बाण का पाठ करने से आपको आपके शत्रु से हमेशा के लिए मुक्ति मिलती हैं. अगर आप आपके शत्रु से किसी भी प्रकार का भय हैं. या फिर आपका शत्रु आपको नुकसान पहुंचा रहा हैं. तो ऐसे में आपको शत्रु पर विजय पाने के लिए रोजाना बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए.

बजरंग बाण का पाठ एक महीने में देगा चमत्कारिक लाभ

अगर आप लगातार एक महीने तक बजरंग बाण का पाठ करते हैं. तो आपको चमत्कारिक लाभ मिलता हैं. ऐसा करने से आपकी बड़ी से बड़ी मनोकामना पूर्ण होती हैं.

अगर आपको सालो पुरानी मनोकामना पूर्ण नही हो रही हैं. तो ऐसे में आपको रोजाना एक महीने तक बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए. इससे आपकी सालो पुरानी मनोकामना पूर्ण होती हैं.

बजरंग बाण का पाठ करने से हर बाधा होगी दूर

अगर आपके घर पर किसी बुरी शक्ति का साया हैं. या फिर आप पर किसी ने टोटका करवा दिया हैं. आपका काम पार नही पड़ रहा हैं. आपके घर में बुरी प्रेत आत्मा ने प्रवेश कर लिया हैं. तो ऐसे में आपको रोजाना बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए. इससे आपको हर बाधा से मुक्ति मिलती हैं.

Bajarang-banh-kitni-bar-padhna-chahie (1)

शुक्र ग्रह को मजबूत करने का रत्न तथा मंत्र जाने – अनुभवी ज्योतिषी से 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए / बजरंग बाण कब पढ़ना चाहिए आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ बेलपत्र खाने से क्या होता है – 5 आश्चर्यजनक फायदे जाने

किसी को पैसा कब देना चाहिए / रात में किसी को पैसा देना चाहिए या नहीं 

गायत्री मंत्र के 13 गुप्त उपाय – सवा लाख गायत्री मंत्र का प्रभाव

 

Shailesh Nagar

1 thought on “बजरंग बाण कितनी बार पढ़ना चाहिए / बजरंग बाण कब पढ़ना चाहिए”

Leave a Comment